मॉस्कोः रविवार देर रात खेले गए फुटबॉल विश्व कप के फाइनल मैच में फ्रांस ने क्रोएशिया को 4-2 से हरा कर विश्व कप पर कब्जा कर लिया. फ्रांस इस मुकाबले में पूरी तरह से हावी रहा और कुल 4 गोल किए. इसके अलावा फ्रांस का डिफेंस भी काफी मजबूत नजर आया. उसने क्रोएशिया के हर कोशिश को नाकाम किया. फ्रांस के मिडफिल्डर पॉल पोग्बा ने फ्रांस के लिए खासा अंतर पैदा किया. वह डिफेंस से लेकर मिडफील्ड और फिर आक्रमण में भी नजर आए और एक गोल भी किया.

फ्रांस की तरफ से पहला गोल 18वें मिनट में हुआ जब ग्रीजमैन की फ्री किक पर क्रोएशिया के मारियो मांडुजुकिच ने गेंद को अपने ही नेट में उलझा दिया. हालांकि इवान पेरिसिक ने 28वें मिनट में गोल कर मुकाबले को बराबरी पर ला दिया. इसके बाद फ्रांस को एक पेनॉल्टी मिला जिस पर इस विश्व कप के फाइनल मैच के सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी एंटोनियो ग्रीजमैन ने गोल करने में कोई गलती नहीं की.

फ्रांस की तरफ से इसके बाद पॉल पोग्बा ने गोल कर मुकाबले को 3-1 कर दिया. पोग्बा ने 59वें मिनट में अपने दूसरे प्रयास में गोल करने में कामयाबी हासिल की. इसके बाद फ्रांस की तरफ से म्बाप्पे ने 65वें मिनट में शानदार मैदानी गोल कर स्कोर को 4-1 कर दिया. अब तक मुकाबला फ्रांस के नाम हो चुका था और बस औपचारिकताएं बाकी थी. म्बाप्पे किसी विश्व कप के फाइनल में गोल करने वाले दूसरे सबसे युवा खिलाड़ी बने.

इसके बाद क्रोएशिया के खिलाड़ियों ने मुकाबले में वापसी करने की पूरी कोशिश की लेकिन वह नाकामयाब रहें. हालांकि 69वें मिनट में फ्रांस के गोलकीपर की गलती की वजह से क्रोएशिया ने एक और गोल कर मुकाबले को 4-2 पर ला दिया. लेकिन इसके बाद दोनों तरफ से कोई गोल नहीं हो सका और फ्रांस विश्व विजेता बन गया.

फीफा फुटबॉल वर्ल्ड कप में फ्रांस की जीत पर विवादित ट्वीट कर घिरीं पुडुचेरी की LG किरण बेदी, कांग्रेस ने बताया एंटी-नेशनल, कहा- बर्खास्त हों

FIFA World Cup 2018: इंग्लैंड के हैरी केन को मिला गोल्डन बूट, क्रोएशिया के लुका मॉड्रिक ने जीता गोल्डन बॉल

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर