मॉस्कोः फुटबॉल विश्व कप के फाइनल में फ्रांस ने मैच जीतकर कप जीता, तो क्रोएशिया ने दिल. 40 लाख की जनसंख्या वाले देश क्रोएशिया जिस तरह से फाइनल में पहुंचा, वह निश्चित रूप से तारीफ के योग्य था. हालांकि फाइनल मुकाबले में उसे हार का सामना करना पड़ा, लेकिन उसके खिलाड़ियों ने जीत के लिए जमकर पसीना बहाया. फाइनल मुकाबले की बात करें तो फाइनल में क्रोएशिया ने दो गोल किए.

फ्रांस की तरफ से पहला गोल 18वें मिनट में होने के बाद 1-0 से पिछड़ रही क्रोएशिया की टीम ने राहत की सांस तब ली जब इवान पेरिसिक ने 28वें मिनट में शानदार मैदानी गोल कर मुकाबले को बराबरी पर ला दिया. हालांकि इसके बाद फ्रांस के खिलाड़ियों ने एक के बाद एक तीन गोल किए. फ्रांस के तीनों स्टार खिलाड़ियों एंटोनियो ग्रीजमैन, पॉल पोग्बा और मबाप्पे ने गोल किए और फ्रांस ने मैच में 4-1 से बढ़त बना ली.

अब तक मुकाबला फ्रांस के नाम हो चुका था लेकिन क्रोएशिया ने भी हार नहीं मानी. क्रोएशिया के खिलाड़ियों ने मुकाबले में वापसी करने की पूरी कोशिश. इसी कोशिश में उन्हें एक और गोल मिला जब 69वें मिनट में फ्रांस के गोलकीपर की गलती पर क्रोएशिया के मारियो मांडुजिकिच ने एक और गोल कर मुकाबले को 4-2 पर ला दिया. इसके बाद दोनों तरफ से कोई गोल नहीं हो सका और फ्रांस विश्व विजेता बन गया.

फीफा फुटबॉल वर्ल्ड कप में फ्रांस की जीत पर विवादित ट्वीट कर घिरीं पुडुचेरी की LG किरण बेदी, कांग्रेस ने बताया एंटी-नेशनल, कहा- बर्खास्त हों

FIFA World Cup 2018: इंग्लैंड के हैरी केन को मिला गोल्डन बूट, क्रोएशिया के लुका मॉड्रिक ने जीता गोल्डन बॉल

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App