सेंट पीट्सबर्गः रूस के सेंट पीट्सबर्ग में खेले गए फीफा विश्व कप के दूसरे सेमीफाइनल में क्रोएशिया ने इंग्लैंड को 2-1 से हराकर फाइनल में प्रवेश कर लिया. यह पहली बार है कि क्रोएशिया विश्व कप के फाइनल में पहुंचा है, जहां उसका सामना 1998 के विजेता फ्रांस से होगा. जैसा कि माना जा रहा था, यह मुकाबला काफी रोमांचक रहा. मैच के पूरे 90 मिनट और इंजरी टाइम तक दोनों टीमें 1-1 की बराबरी पर रही. बाद में मारियो मैंडजुकिच ने एक्स्ट्रा टाइम में गोल कर क्रोएशिया को जीत दिला दी.

इससे पहले इंग्लैंड ने 5वें मिनट में ही बढ़त बना ली जब जब कीरन ट्रिपियर ने फ्री किक पर सीधा शॉट लेते हुए गेंद को गोल में पहुंचा दिया. यह एक दर्शनीय गोल था. गोल इतना सुन्दर था कि क्रोएशिया का गोलकीपर भी देखता रह गया. इसके बाद दोनों टीमों को गोल करने के कुछ आसान और कुछ कठिन मौके मिले लेकिन किसी भी मौके पर गोल नहीं हो सका. खासकर इंग्लैंड के कप्तान हैरी केन को कई आसान मौके मिले लेकिन वह इसे गोल में तब्दील नहीं कर सकें.

मैच के 68वें मिनट में क्रोएशिया ने बराबरी का गोल दागा जब क्रोएशिया के इवान पेरिसिक ने दूर से मिले हवाई पास पर शानदार किक कर गेंद को नेट में उलझा दिया. इसके बाद इंजरी टाइम तक कोई गोल नहीं हो सका. एक्स्ट्रा टाइम में मैच के 109वें मिनट में क्रोएशिया के मारियो मैंडजुकिच को एक आसान मौका मिला जिस पर उन्होंने गोल करने में कोई गलती नहीं की. इसके साथ ही क्रोएशिया फाइनल में पहुंच गया.

FIFA World Cup 2018: क्रोएशिया ने रचा इतिहास, 2-1 से इंग्लैंड को दी मात, पहली बार पहुंचा फाइनल में, अब फ्रांस से टक्कर

FIFA World Cup 2018: पॉल पोग्बा ने थाइलैंड में फंसे बच्चों को समर्पित की फ्रांस की जीत, फीफा अध्यक्ष की तरफ से फाइनल देखने का न्यौता

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर