Monday, December 5, 2022

CWG 2022: इस पाकिस्तानी एथलीट्स ने तोड़ा भारतीय स्टार नीरज चोपड़ा का रिकॉर्ड, 90 मीटर दूर भाला फेंक जीता गोल्ड

नई दिल्ली। पाकिस्तान के जेवलिन थ्रो प्लेयर अरशद नदीम ने भारत के स्टार खिलाड़ी और टोक्यो ओलपिंक के गोल्ड मेडलिस्ट नीरज चोपड़ा का रिकॉर्ड तोड़ दिया है। इसी के साथ वो नीरज की गैरमौजूदगी में 22वें कॉमनवेल्थ गेम्स में रिकॉर्ड दूरी का भाला फेंक कर गोल्ड मेडल को अपने नाम कर लिया है।

89.94 मीटर है नीरज बेस्ट रिकॉर्ड

पाकिस्तानी एथलीट्स अरशद नदीम ने रिकॉर्ड 90.18 मीटर दूर भाला फेंक कर कॉमनवेल्थ गेम्स 2022 में गोल्ड जीता है। वहीं भारतीय स्टार नीरज चोपड़ा (Neeraj Chopra) अभी तक 90 मीटर दूर तक भाला नहीं फेंक सके हैं। बता दें कि नीरज चोपड़ा ने टोक्यो ओलंपिक 2020 में 87.58 मीटर पर जैवलिन थ्रो कर गोल्ड जीता था। इस ओलपिंक के पहले वह कॉमनवेल्थ और एशियन गेम्स में भी गोल्ड मेडलिस्ट रह चुके हैं। लेकिन कभी उन्होंने 90 मीटर के पार थ्रो नहीं किया है। नीरज का अब तक का पर्सनल बेस्ट 89.94 मीटर है जो उन्होंने स्टोकहोम डायमंड लीग में इसी साल हासिल किया था।

56 साल बाद जीता गोल्ड

बर्मिंघम में खेले जा रहे 22वें कॉमनवेल्थ गेम्स में पाकिस्तान के अरशद नदीम (Arshad Nadeem) ने इतिहास रच दिया है। उन्होंने यहां जैवलिन थ्रो (Javelin Throw) प्रतियोगिता में पाकिस्तान के लिए गोल्ड मेडल जीत लिया है। बता दें कि कॉमनवेल्थ गेम्स के इतिहास में पाकिस्तान (Pakistan) को जैवलिन थ्रो में मिला यह पहला गोल्ड है। वहीं इसके साथ ही यह पिछले 56 साल में राष्ट्रमंडल खेल के एथलेटिक्स इवेंट में भी पाकिस्तान (Pakistan) का पहला पदक है। यहां एक खास बात यह भी है कि पाकिस्तानी एथलीट्स अरशद नदीम ने 90.18 मीटर दूर भाला फेंक कर गोल्ड जीता है। वहीं भारत के ओलंपिक गोल्ड मेडलिस्ट नीरज चोपड़ा (Neeraj Chopra) ने आज तक एक बार भी 90 मीटर तक भाला नहीं फेंक सके हैं।

जैलविन थ्रो का पहला गोल्ड मेडल

गौरतलब है कि कॉमनवेल्थ गेम्स में पाकिस्तान पिछले 56 साल में एक बार भी एथलेटिक्स में मेडल हासिल नहीं कर पाया था। यहां एथलेटिक्स में अंतिम बार 1966 में पाकिस्तान को पदक मिला था। ऐसे में अरशम नदीम का यह मेडल पाकिस्तान (Pakistan) का कॉमनवेल्थ गेम्स एथलेटिक्स में पांच दशक के सूखे को खत्म करने वाला रहा। वहीं इसके साथ भाला फेंक (Javelin Throw) में तो यह कॉमनवेल्थ गेम्स में पहला पाकिस्तानी गोल्ड रहा।

Latest news