गोल्डकोस्टः कॉमनवेल्थ गेम्स में भारत का शानदार सफर जारी है. खेलों के नौवें दिन निशानेबाज तेजस्विनी सावंत और अनीश भानवाला के बाद पहलवान बजरंग पूनिया ने भारत को 17वां गोल्ड मेडल दिलाया. यह भारत के लिए दिन का तीसरा गोल्ड मेडल रहा. उन्होंने तकनीकी श्रेष्ठता के आधार पर 10-0 से मुकाबला जीता. यह भारत का आज का तीसरा और कुश्ती में पहला गोल्ड मेडल है. बजरंग पूनिया लगातार अपने प्रतिद्वंदी पर हावी हो रहे. कुश्ती में राहुल अवारे और सुशील कुमार के बाद यह तीसरा गोल्ड मेडल है. बजरंग ने 2014 ग्लास्गो कॉमनवेल्थ में रजत पदक जीता था. वहीं 65 किलोग्राम के फाइनल के मुकाबले में भारत की पूजा ढांडा नाइजीरिया की ओडुनायो से हार गई. उन्हें सिल्वर मेडल से ही संतोष करना पड़ा. यह पूजा ढांडा के लिए निराशाजनक है. उन्होंने हाल ही में खत्म हुए प्रो रेसलिंग लीग में ओडुनायो को हराया था, लेकिन वह यहां उनसे पार नहीं पा सकी.

मौसम खत्री ने भी निराश किया है. वह शुरुआती बढ़त को बरकरार नहीं रख पाए हैं और उन्हें मार्टिन ने टेक्नीकल सुपरियारिटी के आधार पर हराया. मौसम को अब सिल्वर मेडल से संतोष करना पड़ेगा. भारत की दिव्या काकरान ने ब्रॉन्ज मेडल जीता है. उन्होंने 68 किग्रा भारवर्ग में बांग्लादेश की शिरीन सुल्ताना को हराकर ब्रॉन्ज मेडल अपने नाम किया. हालांकि आज भारत को पूजा और दिव्या दोनों से गोल्ड की उम्मीद थी. भारत के खाते में अब तक कुल 39 मेडल आ चुके हैं. वह 17 गोल्ड, 10 सिल्वर और 12 ब्रॉन्ज मेडल के साथ पदक तालिका में तीसरे स्थान पर बरकरार है.

CWG 2018: 15 साल के अनीश भानवाला ने जीता गोल्ड तो लोग बोले- क्या बात है

CWG 2018: देश की बेटियों ने कॉमनवेल्थ में लहराया परचम, तेजस्विनी सावंत ने गोल्ड तो अंजुम मोदगिल को मिला सिल्वर

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App