गोल्ड कोस्टः गोल्ड कोस्ट कॉमनवेल्थ खेलों के लिए दसवां दिन भारत के लिए गोल्डेन डे साबित हुआ है. अभी तक भारत ने कुल 7 गोल्ड मेडल जीते हैं. भारत की टेबल टेनिस खिलाड़ी मनिका बत्रा ने महिला एकल के फाइनल में सिंगापुर की मेंग यू को 11-7,11-6,11-2,11-9 से हराकर इतिहास रच दिया. इसी के साथ भारत के पदकों की संख्या भी बढ़कर 54 हो गई है. इससे पहले मनिका बत्रा ने महिलाओं के टीम इवेंट में भी भारत को गोल्ड दिलाने में अहम मदद की थी और इतिहास रचा था.

मनिका बत्रा के आगे सिंगापुरी प्रतिद्वंदी कहीं भी नहीं टिक पाई और लगातार गेम हारती गई. मनिका ने शानदार खेल दिखाते हुए मेंग यू को कोई मौका नहीं दिया और सीधे सेटों में गोल्ड मेडल मुकाबला जीत गई. बत्रा के स्मैश और डिफेंस का मेंग यू के पास कोई जवाब नहीं था. हालांकि चौथे गेम में मेंग यू ने एक बार वापसी करने की कोशिश की लेकिन वह सफल नहीं हो सकी और बत्रा ने 11-9 से गेम जीतकर गोल्ड मेडल अपने नाम कर लिया.

इससे पहले गोल्ड कोस्ट कॉमनवेल्थ खेलों की शुरुआत दसवें दिन सुनहरी रही और सुपर मॉम मैरी कॉम ने गोल्ड मेडल जीता और ऐसा करने वाली भारत की पहली महिला बॉक्सर बनी. इसके बाद लगातार भारत के मेडल आते रहें. नीरज चोपड़ा, संजीव राजपूत, विनेश फोगाट, गौरव सोलंकी सहित कुल 6 लोगों ने गोल्ड मेडल जीते. मनिका बत्रा ने दिन का सातवां मेडल जीता. वहीं ओलंपिक मेडलिस्ट साक्षी मलिक को सिर्फ कांस्य पदक से ही संतोष करना पड़ा.

CWG 2018: रेसलिंग में विनेश फोगाट ने जीता गोल्ड मेडल, साक्षी मलिक को मिला कांस्य पदक

CWG 2018: कॉमनवेल्थ में बजा भारत का डंका, मुक्केबाज गौरव सोलंकी ने जीता गोल्ड

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर