गोल्ड कोस्ट:कॉमनवेल्थ गेम्स के तीसरे दिन शनिवार को पुरुष हॉकी में भारत का सामना चिर प्रतिद्वंद्वी पाकिस्तान से हुआ. इस मैच भी भारतीय टीम पाकिस्तान के खिलाफ जीत हासिल नहीं कर पाई और मैच ड्रॉ की समाप्ति पर खत्म हुआ. भारत और पाकिस्तान का हॉकी मैच 2-2 से बराबर रहा. क्या गजब का मैच रहा यह. चौथे क्वार्टर के अंतिम सेकंड में पाकिस्तानी टीम को लगातार दो पेनाल्टी कॉर्नर मिला. पाकिस्तान ने अंतिम प्रयास में गोल कर मुकाबले को ड्रॉ करा लिया. यह पाकिस्तान के लिए जीत के बराबर है.

पहला क्वार्टर खत्म होने तक भारतीय टीम 1-0 से आगे रही. दूसरे क्वार्टर में भारत के युवा खिलाड़ी हरमनप्रीत सिंह की मदद से भारत एक और गोल करने में कामयाब रहा. दूसरे क्वार्टर की शुरुआती मिनट में पेनाल्टी कॉर्नर पर हरमनप्रीत सिंह ने गोलकर भारत को 2-0 की बढ़त दिला दी. दूसरे क्वार्टर की समाप्ति तक भारत ने इस को बढ़त बरकरार रखा. पाकिस्तान ने एक गोल कर स्कोर को 2-1 कर लिया है. पाकिस्तान के लिए इरफान खान जूनियर ने गोल किया. भारतीय टीम के 25 वर्षीय कप्तान मनप्रीत सिह ने मैच से पहले कहा था कि जीत के साथ टूर्नामेंट का आगाज करना हमेशा से जरूरी रहा है, क्योंकि यह आगे बढ़ने के लिए सही लय बनाए रखता है. गोल्ड कोस्ट में पहुंचने के बाद हमने काफी अभ्यास किया है.

बता दें कि कॉमनवेल्थ गेम्स में भारत और पाकिस्तान का आखिरी मुकाबला साल 2010 में दिल्ली में हुआ था. राष्ट्रमंडल खेल के तीसरे दिन खेले जाने वाले इस हाई वोल्टेज मैच से पहले भारतीय टीम के कोच शोर्ड मारिन ने कहा था कि हम जीत के प्रबल दावेदार होंगे. मारिन ने गोल्ड कोस्ट के तापमान पर कहा था कि यहां बहुत गर्मी है और दोपहर में 2:30 बजे तापमान करीब 28-29 डिग्री के आसपास रहेगा. ऐसे में मैच खेलना काफी मुश्लिक होगा. उन्होंने कहा कि ऐसी स्थिति में हमें संयम के साथ खेलने की जरूरत है. शुरुआत में गोल नहीं भी मिले तो दबाव लेने की जरूरत नहीं है.

बता दें कि साल 2010 में दिल्ली में आयोजित कॉमनवेल्थ गेम्स में भारत ने शानदार प्रदर्शन करते हुए पाकिस्तान को केवल चार गोल ही दागने दिए. जबकि भारत ने सात गोल दागे. इसके बाद दोनों टीमें पिछले साल एशिया कप में आमने-सामने हुई थीं. जिसमें भारत ने पाकिस्तान पर जीत हासिल की थी. कॉमनवेल्थ गेम्स में जिस ग्रुप में भारत को रखा गया है उसमें पाकिस्तान के साथ इग्लैंड, वेल्स और मलेशिया को भी शामिल किया गया है. लेकिन इन सभी टीमों में भारत और इंग्लैंड को प्रबल दावेदार माना जा रहा है. कॉमनवेल्थ गेम्स के दूसरा दिन भारत के लिए बेहतरीन साबित हुआ है. भारत के दीपक लाठेर ने 69 किलो की स्पर्धा में कांस्य पदक जीता है. इसके अलावा भारतीय महिला हॉकी टीम भी मलेशिया के खिलाफ जीत दर्ज की है.

Commonwealth Games 2018: वेटलिफ्टिंग में सतीश शिवलिंगम ने जीता गोल्ड मेडल, सोशल मीडिया पर लगा बधाइयों का तांता

Commonwealth Games 2018: सतीश शिवलंगम के पिता भी रह चुके हैं वेटलिफ्टर, खुद हैं रेलवे में क्लर्क

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर