गोल्ड कोस्टः भारत का कॉमनवेल्थ गेम्स में अच्छा प्रदर्शन लगातार जारी है. इस बीच पांच बार की वर्ल्ड चैंपियन एमसी मेरी कॉम (48 किग्रा) ने अपने पहले ही मुकाबले में सेमीफाइनल में पहुंच कर मेडल पक्का कर लिया है. ओलंपिक में ब्रॉन्ज मेडल जीतने वाली 35 साल की इस मुक्केबाज ने शानदार खेल दिखा. क्वार्टर फाइनल के एक अहम मैच में मेरी कॉम ने स्कॉटलैंड की मेगन गोर्डोन को 5-0 से मात दी. अब मेरी कॉम का सेमीफाइनल मैच 11 अप्रैल को श्रीलंका की अनुषा दिरूक्शी से होगा. मेरीकॉम को गोल्ड मेडल जीतने का प्रबल दावेदार माना जा रहा है. मेरीकॉम 2012 के लंदन ओलंपिक में महिलाओं की 51 किलो बॉक्सिंग स्पर्धा में कांस्य पदक जीत चुकी हैं.

हाल ही में मेरीकॉम ने एशियाई चैंपियनशिप और इंडियन ओपन में स्वर्ण जीतने के अलावा बुल्गारिया में खेले गए स्ट्रान्डजा स्मारक मुक्केबाजी टूर्नामेंट में रजत पदक जीता था. जीत के बाद मेरी कॉम ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि राष्ट्रमंडल खेलों में यह मेरा पहला का पदक होगा और मैं इसे हासिल करने में खुश हूं , लेकिन मेरा लक्ष्य स्वर्ण पदक जीतने का है. बता दें कि मेरी कॉम की इस जीत के साथ ही भारत का कांस्य पदक पक्का हो गया है क्योंकि सेमीफाइनल में पहुंचने वाले मुक्केबाज को कांस्य पदक दिया जाता है. मुक्केबाजी और जूडो कॉमवेल्थ में सिर्फ दो एकमात्र ऐसे खेल हैं, जिसमें चार पदक दिए जाते हैं. स्वर्ण, रजत और दो कांस्य दिए जाते हैं. कॉमनवेल्थ गेम्स में चौथे दिन भारत के लिए शानदार रहा. आज भारत ने चार मेडल पर अपना कब्जा किया, जिसमे 2 गोल्ड, एक सिल्वर और एक ब्रॉन्ज मेडल शामिल है.

CWG 2018: निशानेबाजी में मनु भाकर ने गोल्ड तो हिना सिद्धू ने जीता सिल्वर, लोगों ने की जमकर तारीफ

CWG 2018: रवि कुमार ने 10 मीटर एयर रायफल स्पर्धा में कांस्य पदक जीता

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर