नई दिल्ली: भारत की बैडमिंटन स्टार साइना नेहवाल के पिता की खेल गांव प्रवेश को लेकर कर चल रहा विवाद खत्म हो गया है. जानकारी के मुताबिक साइना के पिता अब अपनी बेटी का मैच देख सकेंगे. बता दें कि पिता के मैच देखने के प्रवेश को लेकर साइना नेहवाल ने सोशल मीडिया पर आपत्ति जताई थीं. इसके बाद अब इंडियन ओलंपिक एसोसिएशन उनके पिता की एंट्री को लेकर राजी हो गया. विवाद खत्म हो जाने के बाद साइना नेहवाल ने ट्वीट कर खेल मंत्री और IOA को शुक्रिया भी कहा है.

सोमवार को साइना नेहवाल ने ट्वीट कर कहा था कि आश्चर्य की बात है कि जब हमने कॉमनवेल्थ खेल 2018 के लिए भारत से रवाना हुई तो मेरे पिता का नाम टीम के अधिकारी के रूप में शामिल था. इसके लिए पूरी राशि का भुगतान भी कर लिया गया. लेकिन जब हम खेल गांव पहुंचे तो उनका नाम अधिकारियों की सूची में शामिल नहीं था. साइना ट्वीट कर कहा था कि ना तो वो मेरे मैच में उपस्थित रहेंगे और ना ही वो खेल गांव में प्रवेश कर पाएंगे और ना ही मेरे से मिल सकेंगे, ऐसे में वो मुझे सपोर्ट कैसे करेंगे?

अगले ट्वीट में साइना ने कहा कि मुझे उनके सपोर्ट की जरूरत है. मैं नियमित रूप से उन्हें अपने प्रतियोगिताओं में ले जाती रही हूं. बता दें कि ऑस्ट्रेलिया के कोस्ट गोल्ड में खेले जाने वाले राष्ट्रमंडल खेलों की शुरुआत चार अप्रैल से हो रही है. लेकिन मुकाबले 5 अप्रैल से खेले जाएंगे. इस बार कॉमनवेल्थ गेम्स 2018 में कुल 70 देश के खिलाड़ी हिस्सा ले रहे हैं. आयोजन की तैयारियां पूरी कर ली गई है.

CWG2018: खेल गांव में भी किताबें लेकर आया है यह खिलाड़ी, शूटिंग के साथ करनी है परीक्षा की भी तैयारी

Commonwealth Games 2018: कॉमनवेल्थ गेम्स आयोजकों ने खिलाड़ियों को बांटे 2,25,000 लाख कंडोम, आईसक्रीम भी फ्री

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App