Sunday, September 25, 2022

20 साल की उम्र में लक्ष्य ने जीता गोल्ड, पीएम मोदी को खिलाई थी उत्तराखंड की मशहूर मिठाई

नई दिल्ली: भारतीय बैडमिंटन के युवा सितारे लक्ष्य सेन बर्मिंघम में लक्ष्य सेन ने स्वर्ण पदक हासिल कर लिया है।इस मैच में उनका मुकाबले मलेशिया के यॉन्ग के साथ था, लेकिन उन्होंने धमाकेदार प्रदर्शन करते हुए 20वा स्वर्ण पदक भारत के नाम किया है। सेन चार महीने पहले ऑल इंग्लैंड चैंपियनशिप के फाइनल राउंड में गोल्ड मेडल से वंचित रह गए थे। वह पिछले 21 वर्षों में इस टूर्नामेंट के फाइनल में पहुंचने वाले पहले भारतीय खिलाड़ी रह चुके हैं। अल्मोड़ा का 20 वर्षीय खिलाड़ी कॉमनवेल्थ में खूब अच्छा प्रदर्शन कर रहा है।

पीएम मोदी को खिलाई थी उत्तराखंड की मिठाई

लक्ष्य पीएम मोदी को अल्मोड़ा की फेमस बाल मिठाई खिला चुके हैं। उन्होंने पिछली बार गोल्ड कोस्ट खेलों में मिश्रित टीम का गोल्ड मेडल जीता था और तब सेन ने इसे टेलीविजन पर भी देखा था। सेन ने कहा था ‘पिछली बार जब भारत ने गोल्ड जीता था तो मैंने उसे टीवी पर देखा था। इससे पहले मैंने (पारुपल्ली) कश्यप भैया को 2014 में स्वर्ण पदक जीतते हुए टीवी पर देखा था। लेकिन 2018 में मैं टीम का हिस्सा बनना चाहता था।’

इग्लैंड आठ खिताब जीतकर सबसे सफल टीम में से एक है जबकि पांच बार का चैंपियन मलेशिया ने 1998 से 2014 के बीच अपना दबदबा बना रखा था। भारत ने पिछली बार मलेशिया को हराकर जीत हासिल की थी।

पिछले छह महीने से बना रखा है दबदबा

पिछले छह महीने से शानदार फॉर्म में चल रहे सेन ने दिसंबर 2021 में विश्व चैम्पियनशिप में ब्रॉन्ज मेडल जीता था। इसके बाद जनवरी में इंडिया ओपन सुपर 500 खिताब जीता और पिछले सप्ताह जर्मन ओपन में उपविजेता भी रहे। सेन ने छह साल पहले इंडिया इंटरनेशनल सीरिज में ली को भी हराया था। उन्होंने शानदार तकनीक और मानसिक दृढता का परिचय देते हुए इतिहास रचा है। दोनों खिलाड़ी एक दूसरे के खेल को अच्छे से जानते हैं क्योंकि बेंगलुरू में 2016 में प्रकाश पादुकोण अकादमी में एक्सचेंज कार्यक्रम का हिस्सा रहे हैं।

 

राजस्थान: खाटू श्याम मेले में भगदड़, 3 श्रद्धालुओं की मौत, कई घायल

 

Latest news