नई दिल्ली : बिग बाउट लीग में गुरुवार को दो मुकाबले खेले जाएंगे. ओड़िशा वॉरियर्स को नॉर्थ ईस्ट राहिनोस से और बॉम्बे बुलेट्स को गुजरात जायंट्स से खेलना है. मुक़ाबले आईजी खेल परिसर के केडी जाधव हॉल में आयोजित किए जाएंगे.
इन चारों टीमों में गुजरात जायंट्स ही एकमात्र ऐसी टीम है, जो अभी तक हारी नहीं है. ओड़िशा वॉरियर्स की टीम पंजाब पैंथर्स और गुजरात जायंट्स से अपने मुक़ाबले गंवा चुकी है जबकि बैंगलुरु ब्रालर्स को 6-1 से हराकर उसने लीग में अपनी स्थिति सुधार ली है. ज़्यादा मुक्केबाज़ों की सफलता के बराबर अंक मिलने के नियम का सबसे ज़्यादा फायदा ओड़िशा वॉरियर्स को हुआ है. वहीं उसके खिलाफ उतरने वाली नॉर्थ ईस्ट राहिनोस ने बैंगलुरु ब्रालर्स को हराया है जबकि गुजरात जायंट्स के हाथों उसे कड़े संघर्ष में 3-4 से हार का सामना करना पड़ा है. वहीं बॉम्बे बुलेट्स को पंजाब पैंथर्स से पराजय हाथ लगी जबकि उसने बैंगलुरु ब्रालर्स को 5-2 हराया.
ओड़िशा और एनई के मुक़ाबले का सबसे बड़ा आकर्षण पुरुषों का 69 किलोग्राम वर्ग का मुक़ाबला होगा जहां ओड़िशा की ओर से उसके उज्बेकिस्तानी मुक्केबाज़ जांखोगीर राखोमोनोव उतरेंगे तो वहीं एनई की ओर से मंदीप जांगड़ा चुनौती रखेंगे. राखोमोनोव बेशक पिछले मुक़ाबलों में मनोज कुमार से हारे हैं लेकिन दुर्योधन सिंह नेगी और दिनेश डागर को हराने के बाद वह लय में आते दिख रहे हैं. वहीं मंदीप जांगड़ा ने दिनेश डागर और आशीष कुलहेरिया को हराकर अपनी बढ़िया फॉर्म का परिचय दिया है.
गुजरात जायंट्स और बॉम्बे बुलेट्स के बीच होने वाले मुक़ाबले में सबकी निगाहें 57 किलो के बैंटमवेट मुक़ाबले पर टिकी होंगी जहां बॉम्बे के लिए कविंदर सिंह बिष्ट और गुजरात के लिए मोहम्मद हसामुद्दीन की जगह टीम में शामिल किये गये चिराग के बीच रोचक संघर्ष देखने को मिल सकता है. चिराग इस लीग की खोज साबित हुए हैं. उन्होंने न सिर्फ पिछले मुक़ाबले में उज्बेकिस्तानी मुक्केबाज़ खालाकोव को हराया है बल्कि इससे पहले वह एनई के मोहम्मद ईताश को भी शिकस्त दे चुके हैं. उन्हें बिग बाउट लीग की एक सनसनी कहा जा रहा है. वहीं कविंदर सिंह बिष्ट ने वर्ल्ड चैम्पियनशिप में दो साल पहले देश को ब्रॉन्ज़ मेडल दिलाने वाले गौरव बिधूड़ी को हराकर सनसनी फैला दी थी.

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर