नई दिल्ली. स्पॉट फिक्सिंग मामले में क्रिकेट खेलने पर अजीवन प्रतिबंध झेल रहे भारतीय गेंदबाज एस श्रीसंत को बीसीसीआई से बड़ी राहत मिली है. बीसीसीआई ने श्रीसंत के लाइफ बैन को घटाकर 7 साल करने का फैसला किया है. इस अनुसार, श्रीसंत पर लगा आजीवन प्रतिबंध अगले साल 13 सितंबर 2020 में खत्म हो जाएगा. साल 2013 में आईपीएल की एक मैच में स्पोट फिकसिंग में दोषी पाए गए श्रीसंत के किसी भी स्तर पर क्रिकेट खेलने पर प्रतिबंध लगा दिया गया था.

श्रीसंत के बैन के समय को घटाने पर बीसीसीआई के लोकपाल डीके जैन ने कहा कि श्रीसंत एक पेसर होने के नाते अपनी उम्र का एक अहम काल सजा के तौर पर बिता चुके हैं, इसलिए बोर्ड ने उनकी सजा कम करने का फैसला किया है.

भारतीय पेसर एस श्रीसंत का जन्म 6 फरवरी 1983 में हुआ जिसके अनुसार वे 36 साल के हो गए हैं. अगले साल जब तक उनपर लगाया प्रतिबंध हटेगा तो उनकी उम्र करीब 37 साल हो जाएगा. ऐसे में उनकी भारतीय टीम में वापसी तो मुश्किल है लेकिन अपने ऊपर लगे आरोपों से जरूरी छुटकारा मिल जाएगा.

बीते मार्च 2019 में श्रीसंत को सुप्रीम कोर्ट ने राहत पहुंचाते हुए स्पॉट फिक्सिंग मामले में लाइफ बैन हटाकर बीसीसीआई से श्रीसंत को सुनवाई का मौका और 3 महीने के भीतर सजा तय करने का आदेश सुनाया था. सुप्रीम कोर्ट ने अपने फैसले में कहा था कि श्रीसंत पर लगे आजीवन प्रतिबंध की सजा ज्यादा है.

England vs Australia 2nd Test: इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया के बीच खेला गया एशेज सीरीज का दूसरा टेस्ट मैच ड्रॉ, बेन स्टोक्स बने प्लेयर ऑफ द मैच

MS Dhoni Cricket With Kids in Leh: लेह में बच्चों के साथ क्रिकेट खेलते नजर आए महेंद्र सिंह धोनी, देखें फोटो

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App