नई दिल्ली. भारत और पाकिस्तान के बीच क्रिकेट वर्ल्ड कप 2019 में होने वाले मुकाबले पर बोर्ड ऑफ क्रिकेट फॉर कंट्रोल इन इंडिया (बीसीसीआई) ने फैसला सरकार पर छोड़ दिया है. इसके लिए बनी बीसीसीआई की दो सदस्यीय समिति सीओए (CoA) के सदस्य विनोद राय ने कहा है कि हम इंटरनेशनल क्रिकेट काउंसिल को लिखकर अपनी चिंताएं व्यक्त करेंगे. हालांकि 16 जून को विश्व कप क्रिकेट मुकाबले में भारत पाकिस्तान के साथ खेलेगा या नहीं इसका फैसला सरकार से वार्ता कर लिया जाएगा.

शुक्रवार को हुई सीओए की बैठक के बाद विनोद राय ने कहा कि हम आईसीसी को लिखेंगे कि वह आतंकवाद का समर्थन करने वाले देशों के प्रति कड़ा रूख अपनाए. यह खिलाड़ियों और अधिकारियों समेत सभी की सुरक्षा का सवाल है. साथ ही उन्होंने कहा कि इस साल आईपीएल टूर्नामेंट की ऑपनिंग सेरेमनी भी सादे तरीके से होगी. पहले से प्रस्तावित ऑपनिंग सेरेमनी के भव्य आयोजन को रद्द कर दिया गया है, ऑपनिंग सेरेमनी के बजट को पुलवामा हमले में शहीद सीआरपीएफ जवानों के परिवार को दिया जाएगा.

गौरतलब है कि जम्मू कश्मीर के पुलवामा में हुए आतंकी हमले के बाद देशभर में पाकिस्तान के खिलाफ गुस्सा है. कई क्रिकेट प्रेमियों समेत अनेक लोगों ने विश्व कप क्रिकेट 2019 के दौरान 16 जून को पाकिस्तान के खिलाफ होने वाले मुकाबले में भारत के नहीं खेलने की मांग की. इसके बाद बीसीसीआई और सरकार पर यह दबाव आया कि भारतीय क्रिकेट टीम वर्ल्ड कप में पाकिस्तान के खिलाफ होने वाले मुकाबले से वॉक आउट कर दे. इसके लिए बीसीसीआई ने दो सदस्यीय प्रशासकीय समिति बनाई. समिति की शुक्रवार को हुई बैठक में निर्णय लिया गया कि भारत-पाक मुकाबले पर फैसला सरकार से वार्ता के बाद ही लिया जाएगा.
Pakistan on River Diversion: नरेंद्र मोदी सरकार ने रोका सतलुज, रावी और व्यास नदी का पानी तो पाकिस्तान बोला- कोई परेशानी नहीं
Nitin Gadkari on Pakistan Water Supply: पाकिस्तान का पानी रोकने पर बोले नितिन गडकरी- वो आतंकवाद के साथ तो हम क्यों दिखाएं मानवता

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App