नई दिल्ली. 18वें एशियाई खेलों के 10वें दिन बैडमिटन से भारतीय प्रशंसकों के लिए अच्छी खबर है. भारत की स्टार बैडमिंटन खिलाड़ी पीवी सिंधु ने सिल्वर मेडल जीतकर इतिहास रच दिया. महिला सिंगल्स के फाइनल में सिंधु से देश को गोल्ड मेडल की उम्मीद थी लेकिन ऐसा हो न सका वह फाइनल में चीनी ताइपे की खिलाड़ी से मात खा गईं.

सिंधु खिताबी मुकाबले में गोल्ड मेडल जीतने से चूक गईं और उन्हें सिल्वर से ही संतोष करना पड़ा। महिला सिंगल्स के फाइनल में चीनी ताइपे की खिलाड़ी ताइ जु यिंग ने भारतीय शटलर पीवी सिंधु को सीधे सेटों में 21-13, 21-16 हराया. सिंधु ने कई बार गेम में वापसी करने की कोशिश की लेकिन वह ताइ जु यिंग से पार नहीं पा सकीं.

पीवी सिंधु भले ही फाइनल मुकबला हार गई हों लेकिन उन्होंने सिल्वर मेडल जीतकर इतिहास कायम कर दिया. सिंधु एशियन गेम्स में बैडमिंटन की किसी भी स्पर्धा में सिल्वर मेडल जीतने वाली पहली भारतीय खिलाड़ी हैं. 27 अगस्त को भारत की साइना नेहवाल बैडमिंटन के महिला सिंगल्स में एशियाई खेलों में कांस्य पदक जीतने वाली पहली भारतीय खिलाड़ी बनी थीं.

फाइनल में सिंधु का मुकाबला विश्व की नंबर 1 बैडमिंटन खिलाड़ी ताइ जु यिंग से था. पहले गेम में सिंधु दबाव में रहीं और वह पहला सेट 21-13 से हार गईं. दूसरे गेम में सिंधु ने अच्छी शुरुआत की एक समय वह 4-4 की बराबरी पर थीं लेकिन जैसे-जैसे गेम आगे बढ़ता गया सिंधु पिछड़ती गईं. दूसरे सेट में सिंधु को 21-16 से हार मिली.

एशियाई खेलों में सिंधु महिला बैडमिंटन के सिगल्स में पहुंचने वाली पहली भारतीय हैं. उन्होंने सेमीफाइनल में जापान की अकाने यामागुची को हराया था. उनके शानदार खेल को देखते हुए लग रहा था कि सिंधु भारत को फाइनल में गोल्ड मेडल जिताएंगी लेकिन चीनी ताइपे की खिलाड़ी के आगे वह दबाव में रहीं और उन्हें सिल्वर मेडल से ही संतोष करना पड़ा.

Asian games 2018: जेवलिन थ्रो में गोल्ड जीत इतिहास रचने वाले नीरज चोपड़ा को इन पंक्तियों से मिलती है प्रेरणा

18वें एशियाई खेलों में गोल्ड मेडल जीतने वाली ‘गोल्डन गर्ल’ विनेश फोगाट ने की सगाई

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App