नई दिल्ली. उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने 18वें एशियाई खेलों में सिल्वर मेडल जीतने वाली यूपी की सुधा सिंह ईनाम देने की घोषणा की है. यूपी सरकार इस महिला धाविका को 30 लाख रुपये पुरस्कार देने का ऐलान किया है. इसके अलावा प्रदेश सरकार ने सुधा सिंह को राज्य में गजेटेड अधिकारी के पद पर नौकरी देने फैसला किया है.

यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ ने तारीफ करते हुए कहा, सुधा ने अपनी मेहनत और लगन के बल पर 18वें एशियाई खेलों में बेहतरीन प्रदर्शन कर देश और प्रदेश का मान दुनिया भर में बढ़ाया है. पूरा उत्तर प्रदेश सुधा की इस उपलब्धि से गौरवान्वित महसूस कर रहा है. वहीं उत्तर प्रदेश सरकार ने अपनी इस लंबी दूरी की धाविका का स्वागत करने के लिए तैयारियां पूरी कर ली हैं.

इंडोनेशिया के जकार्ता और पालेमबांग में खेले जा रहे 18वें एशियाई खेलों में भारत की सुधा सिंह ने 27 अगस्त (सोमवार) को स्टीपलचेज में सिल्वर मेडल जीता था. उन्होंने स्टीपलचेज स्पर्धा में 3,000 मीटर की दूरी 9 मिनट 40.03 सेकंड में तय कर सिल्वर मेडल पर कब्जा किया. वहीं इस स्पर्धा का स्वर्ण पदक बहरीन की
विनफ्रेड यावी के नाम रहा जिन्होंने 3,000 मीटर की दूरी 9 मिनट 36.52 सेकंड में पूरी कर गोल्ड मेडल जीता. वहीं वियतनाम की थि ओन्ह गुयेन ने 9 मिनट 43.83 का समय लेकर ब्रॉन्ज मेडल अपने नाम किया.

लंबी दूरी की 32 वर्षीय धाविका सुधा सिंह का ताल्लुक उत्तर प्रदेश के रायबरेली जिले से है. वह लंबी दूरी की दौड़ में भारत का प्रतिनिधित्व अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर करती हैं. साल 2010 में ग्वांगझू में आयोजित एशियाई खेलों में सुधा सिंह ने 3,000 मीटर स्टीपलचेज स्पर्धा में गोल्ड मेडल जीता था. इसके अलावा वह राष्ट्रीय चैंपियनशिप में 1 गोल्ड सहित 3 सिल्वर मेडल जीते हैं.

Asian Games 2018 Day 10 Live Updates: एशियाई खेलों के दसवें दिन सबकी निगाहें पीवी सिंधु पर, महिला कंपाउंड तीरंदाजी में भारत को सिल्वर

Asian games 2018: जेवलिन थ्रो में गोल्ड जीत इतिहास रचने वाले नीरज चोपड़ा को इन पंक्तियों से मिलती है प्रेरणा