जकार्ता/लखनऊः भारत की ओर से एशियन गेम्स 2018 में खेल रहे 16 साल के निशानेबाज सौरभ चौधरी ने 21 अगस्त, 2018 को एशियाई खेलों में इतिहास रच दिया. मेरठ के रहने वाले सौरभ ने 10 मीटर एयर राइफल पिस्टल स्पर्धा में गोल्ड मेडल अपने नाम कर एक और गोल्ड भारत की झोली में डाल दिया. सौरभ की इस उपलब्धि पर यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने उन्हें 50 लाख रुपये और गजेटेड अफसर की नौकरी देने का ऐलान किया है.

इसी स्पर्धा में हरियाणा के अभिषेक वर्मा (29) ने ब्रॉन्ज मेडल जीता. दूसरे स्थान पर जापान के तोमोयुकी मतसुदा रहे. सौरभ ने इस स्पर्धा में 240.7 अंक लेकर गोल्ड मेडल हासिल किया. उन्होंने इस श्रेणी में एशियन गेम्स का रिकॉर्ड भी बनाया. 239.7 अंकों के साथ तोमोयुकी दूसरे और 219.3 अंकों के साथ अभिषेक वर्मा तीसरे स्थान पर रहे.

बताते चलें कि एशियन गेम्स 2018 में शूटिंग में यह भारत का पहला गोल्ड और कुल चौथा पदक है. एशियाड खेलों के सभी संस्करणों में शूटिंग में यह भारत का आठवां पदक है. सौरभ चौधरी 10 मीटर एयर पिस्टर इवेंट में गोल्ड मेडल जीतने वाले भारत के पहले निशानेबाज बन गए हैं. 2010 के ग्वांगझू खेलों में निशानेबाज विजय कुमार ने ब्रॉन्ज मेडल जीता था.

एशियन गेम्स 2018 में 50 किलोग्राम फ्रीस्टाइल कुश्ती में विनेश फोगाट ने स्वर्ण पदक अपने नाम किया. एशियन गेम्स के इतिहास में स्वर्ण पदक जीतने वाली वह पहली भारतीय महिला पहलवान बन गईं हैं. भारत के प्रसिद्ध कुश्ती खिलाड़ी बजरंग पूनिया ने भी गोल्ड मेडल जीतकर देश का नाम रोशन किया. पुरुष ट्रैप स्पर्धा में निशानेबाज लक्ष्य शेरॉन ने रजत पदक जीतकर टूर्नामेंट में भारत को चौथा पदक दिलाया.

एशियन गेम्स 2018: 16 साल के सौरभ चौधरी ने रचा इतिहास, एशियाड में गोल्ड जीतने वाले सबसे युवा भारतीय बने

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App