जकार्ता: एशियन गेम्‍स 2018 के सातवें दिन भारतीय एथलीट तेजिंदरपाल सिंह ने इतिहास रचते हुए गोला फेंक में भारत को गोल्ड मेडल दिलवाया. इसके साथ ही तेजिंदर पाल सिंह ने राष्ट्रीय सहित एशियाई खेलों में नया रिकॉर्ड कायम किया. 18वें एशियन गेम्स के सातवें दिन तजिंदरपाल सिंह ने शॉट पुट स्पर्धा में एशियाई रिकॉर्ड के साथ टॉप पर रहकर गोल्ड मेडल जीता. तजिंदरपाल सिंह ने 20.75 मीटर के साथ स्वर्ण पदक पर कब्जा जमाया. भारत का इस एशियाई खेलों में यह 7वां गोल्ड मेडल है.

23 साल के तजिंदरपाल सिंह ने पहले प्रयास में 19.96, दूसरे प्रयास में 19.15 मीटर का थ्रो किया. लेकिन उनका तीसरा प्रयास फाउल हो गया, लेकिन वह हिम्मत नहीं हारे और उन्होंने चौथे प्रयास में 19.96 और पांचवें प्रयास में 20.75 का रिकॉर्ड थ्रो किया. 20.75 मीटर के प्रयास के साथ उन्होंने राष्ट्रीय रिकॉर्ड कामय किया. जबकि छठे प्रयास में 20.00 मीटर गोला फेंका. इससे पहले का रिकॉर्ड 20.57 मीटर का है. जो सऊदी अरब के गत चैंपियन सुल्तान अब्दुल माजिद अल हेबशी ने 2010 खेलों में बनाया था.

भारतीय नौ सेना में काम करने वाले पंजाब के मोगा जिले के तेजिंदर पाल ने पिछले वर्ष एशियाई चैम्पियनशिप में रजत पदक हासिल किया था. हालांकि गोल्ड कोस्ट कॉमनवेल्थ खेलों में उनका प्रदर्शन निराशाजनक रहा था. अब तक भारत ने 7 गोल्ड, 5 सिल्वर और 17  ब्रॉन्ज मेडल समेत कुल 29 पदक जीत लिए हैं. पदक जीतने के मामले में भारत 8वें स्थान पर काबिज है.

इस स्पर्धा में 20.75 अकों के साथ तेजिंदरपाल सिंह स्वर्ण जीतकर पहले स्थान पर काबिज रहे. वहीं  19.52 अंकों के साथ यांग सिल्वर जीतकर दूसरे स्थान पर रहे. जबिक 19.40 अंको के साथ कजाखस्तान के इवानोव इवान ब्रॉन्ज जीतकर तीसरे स्थान पर रहे.

एशियन गेम्स 2018: जानिए, कौन हैं स्क्वैश में ब्रॉन्ज मेडल जीतने वाली दीपिका पल्लीकल कार्तिक

एशियन गेम्स 2018ः दीपिका पल्लीकल ने जीता सातवें दिन का पहला पदक, पीएम मोदी समेत तमाम हस्तियों ने दी बधाई

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App