जकार्ताः जकार्ता-पालेमबांग एशियन गेम्स के चौथे दिन भारत के 15 वर्षीय युवा निशानेबाज शार्दुल विहान ने डबल ट्रैप शूटिंग स्पर्धा में सिल्वर मेडल जीता. उन्होंने पहले क्वालीफाइंग राउंड में 141 अंकों के साथ शीर्ष पर रहते हुए फाइनल के लिए क्वालिफाइ किया. उन्होंने 28, 28, 29, 27, और 29 का स्कोर बनाया और क्वालीफाइंग राउंड में टॉप पर रहें. इसके बाद फाइनल में 80 में से 73 अंक जुटाकर सिल्वर मेडल जीत लिया. वह अपने निकटतम कोरियाई प्रतिद्वंदी से सिर्फ एक अंक पीछे रहे. कोरियाई निशानेबाज शिन ने 80 में से 74 अंक बनाए थे.

शार्दुल की इस उपलब्धि पर पूरे देश को गर्व है और सोशल मीडिया पर लगातार बधाईयों का सिलसिला जारी है. आम से लेकर खास तक लोग पंद्रह वर्षीय इस निशानेबाज की उपलब्धि पर गर्व कर रहे हैं. खेल मंत्री और खुद निशानेबाज रह चुके राज्यवर्धन सिंह राठौड़ ने शार्दुल को एक उभरता हुआ सितारा कहा और लिखा कि भारतीय निशानेबाजी जिम्मेदार कंधों पर है. वहीं क्रिकेटर वीरेंद्र सहवाग ने लिखा कि यह अविश्वसनीय है. जबकि ओलंपिक गोल्ड मेडलिस्ट अभिनव बिंद्रा ने लिखा कि इस युवा खिलाड़ी से बहुत कुछ सीखा जा सकता है. इसके अलावा विभिन्न नेताओं और मंत्रियों ने भी शार्दुल को उनके इस उपलब्धि के लिए बधाई दी.

 

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App