नई दिल्ली. भारत को अपने एथलीटों से एशियन गेम्स 2018 में पदक जीतने की उम्मीद है. एथलेटिक्स फेडरेशन ऑफ इंडिया (एएफआई) ने इंडोनेशिया में आयोजित होने वाले एशियन गेम्स 2018 में 55 एथलोटों का जत्था भेजा है. एथलीटों के भेजे इस दल में धावक अरोकिया राजीव भी शामिल हैं. अरोकिया राजीव ने 2014 एशियन गेम्स में कांस्य पदक जीतने में कामयाब रहे थे. 18वें एशिया खेल इंडिनेशिया की राजधानी और जकार्ता और पालेमबांग में 18 अगस्त से 2 सितंबर के बीच खेले जाएंगे.

एथलेटिक्स फेडरेशन ऑफ इंडिया को उम्मीद है कि इस बार एथलीट इंडोनेशिया में अधिक से अधिक पदक अपनी झोली में डालेंगे. अरोकिया राजीव पुरुषों कि 4×400 मी. की दौड़ में अपना दम दिखाएंगे. अरोकिया राजीव 2014 में दक्षिण कोरिया के इंचियोन में आयोजित एशियाड में कांस्य पदक जीतने सफल रहे थे. इंडोनेशिया में वह गोल्ड मेडल जीतकर 2014 की निराशा से बचना चाहेंगे.

अरोकिया राजीव ने सबसे पहले साल 2013 में एशियन चैंपियनशिप के दौरान 400 मीटर और 4×400 मीटर की दौड़ में भाग लिया था जिसमें क्रमशः छठे और चौथे स्थान पर रहे थे. 2014 इंचियोन एशियन गेम्स के दौरान 400 मीटर की दौड़ में उन्होंने कांस्य पदक जीता जबकि 4×400 मीटर की दौड़ वह चौथे स्थान पर रहे. 2017 एशियन चैंपियनशिप के दौरान उन्होंने 400 मीटर की दौड़ में रजत पदक जीता जबकि 4×400 मीटर की दौड़ में उन्होंने सोने का तमगा हासिल किया.

अरोकिया राजीव का जन्म तमिलनाडु के तिरुचिरापल्ली में 22 मई 1991 को एक गरीब परिवार में हुआ. अरोकिया राजीव ने अपने करियर की शुरुआत एक लॉन्ग जंपर के तौर शुरू की, बाद में उन्होंने 400 मीटर की दौड़ पर अपना ध्यान केंद्रित किया. 2014 इंचियोन एशियाई खेलो में  46.13 सेकेंड में 400 मीटर दौड़ में  वह कांस्य पदक जीतने में सफल रहे. इंडोनेशिया में देश को उनसे गोल्ड मेडल की उम्मीद है.

एशियन गेम्स 2018ः कबड्डी में हैट्रिक लगाने उतरेगी भारतीय महिला टीम, यहा रहा पूरा शेड्यूल-

एशियन गेम्स 2018ः जकार्ता पालेमबांग में 8वां गोल्ड कब्जाने उतरेगी भारतीय पुरूष कबड्डी टीम