नई दिल्ली. 18वें एशियाई खेलों के 9वें दिन भारत के लिए बहुत ही शानदार खबर है. भारत की स्टार बैडमिंटन खिलाड़ी पीवी ने आज इतिहास रच दिया. पीवी सिंधु 18वें एशियाई खेलों बैडमिंटन के एकल मुकाबले के फाइनल में पहुंच गई हैं. उन्होंने सेमीफाइनल में जापान की खिलाड़ी अकाने यामागुची को 21-17, 15-21, 21-10 से मात दी. पीवी सिंधु भारत की पहली महिला बैडमिंटन खिलाड़ी हैं जिन्होंने एशियाई खेलों में बैडमिंटन के सिगल्स मुकाबले के फाइनल में जगह बनाई.

पीवी सिंधु ने शुरुआत से ही जापानी खिलाड़ी पर हावी रहीं और पहला सेट 21-17 से अपने नाम किया. दूसरे गेम में जापान की खिलाड़ी अकाने यामागुची ने वापसी की और सिंधु से दूसरा से 21-15 से जीत लिया. तीसरे गेम में यामागुची ने सिंधु को कड़ी टक्कर देने की कई बार कोशिश की लेकिन पीवी सिंधू ने उनकी एक नहीं चलने दी. भारतीय शटलर पीवी सिंधु ने तीसरे सेट में शुरू से ही जापानी खिलाड़ी पर दबाव बनाया और जिसे अंत तक कायम रखा.

तीसरे गेम में जापानी खिलाड़ी थकी हुई नजर आई. पीवी सिंधु के जोरदार मुकाबले का उनके पास कोई जवाब नहीं था. तीसरे सेट में शुरुआत में पिछड़ने के बाद वह अंत तक भारतीय शटलर के आगे संघर्ष करती रहीं. सिंधु ने शानदार खेल का मुजाहिरा करते हुए तीसरा सेट ही नहीं जीता बल्कि फाइनल में भी अपना स्थान पक्का कर लिया.

इससे पहले सेमीफाइनल में साइना नेहवाल को चीनी ताइपे की ताइ जू यिंग ने सीधे सेटों में 17-21, 14-21 से हराया और उन्हें ब्रॉन्ज मेडल से संतोष करना पड़ा। वह इस टूर्नमेंट में मेडल जीतने वाली पहली भारतीय महिला बैडमिंटन खिलाड़ी बनीं। रेकॉर्ड की बात करें तो बैडमिंटन इंडिविजुअल इवेंट में आखिरी बार सैयद मोदी ने 1982 में ब्रॉन्ज मेडल जीता था।

बैडमिंटन की सिंगल्स स्पर्धा के फाइनल में पीवी सिंधु का मुकाबला चीनी ताइपे की ताइ जु यिंग से होगा. जाहिर है ताइ जु यिंग विश्व की नंबर 1 महिला खिलाड़ी हैं वह सिंधु के सामने कड़ी चुनौती पेश कर सकती हैं अगर पीवी सिंधू फाइनल मुकाबला जीतती हैं तो वह भारत की तरफ से एशियाई खेलों में गोल्ड मेडल जीतने वाली पहली महिला बैडमिंटन खिलाड़ी बनेंगी.

एशियन गेम्स 2018ः कबड्डी में हार से निराश भारतीय कोच ने कप्तान पर साधा निशाना, कहा- अजय ठाकुर का अति आत्मविश्वास टीम को ले डूबा

एशियन गेम्स 2018: जानिए नौकायन में गोल्ड मेडल जीतने वाली भारतीय टीम के बारे में

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App