नई दिल्ली. इंडोनेशिया में आयोजित 18वें एशियाई खेलों को आज उद्घाटन होने जा रहा है. भारत इन खेलों में अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करने के उद्देश्य के साथ उतरेगा. 18वें एशियाई खेल इंडोनेशिया के शहर जकार्ता और पालेमबांग में 18 अगस्त से 2 सितंबर तक खेले जाएंगे. इस 18वें एशियाड में दुनिया भर के 45 देशों के 11,000 खिलाड़ी अपनी किस्मत आजमाएंगे.

एशियाई खेलों का उद्घाटन समारोह भारतीय समुयानुसार 5.30 बजे शुरू होगा. उद्घाटन समारोह में भाला फेंक खिलाड़ी नीरज चोपड़ा भारतीय दल की अगुआई करेंगे. भारत को इस बार अपने खिलाड़ियों से पदक की बेहद उम्मीदें हैं. 2018 में गोल्ड कोस्ट ऑस्ट्रेलिया में आयोजित राष्ट्रमंडल खेलों में शामिल कोच और खिलाड़ियों का मानना है कि उन्हें चीन, जापान, कोरिया के खिलाड़ियों से काफी चुनौती मिलेगी. भारत ने 2018 के एशियाई खेलों में 572 खिलाड़ियों का जत्था भेजा है.

निशानेबाज मनु भाकेर, पहलवान सुशील कुमार और भाला फेंक खिलाड़ी नीरज चोपड़ा से भारत को पदक की उम्मीदें हैं. भारतीय दल में हाल ही में अंडर 20 विश्व चैंपियनशिप में गोल्ड मेडल जीतने वाली असम की एथलीट हिमा दास भी शामिल हैं. अंडर 20 विश्व चैंपियनशिप में शानदार प्रदर्शन करने वाली असम की इस एथलीट से देश को पदक की उम्मीद है. इनके अलावा पीवी सिंधू, साइना नेहवाल, बजरंग पुनिया, विनेश फोगाट को भी पदक के दावेदारों के रूप में देखा जा रहा है.

भारतीय हॉकी प्रेमी अपनी टीम को लगातार दूसरी बार एशियन गेम्स में स्वर्ण पदक जीतते देखना चाहेंगे. भारतीय हॉकी टीम ने 2014 के एशियाई खेलों में चिरप्रतिद्वंदी पाकिस्तान को फाइनल में हराकर गोल्ड मेडल जीता. मौजूदा समय में भारतीय हॉकी टीम अच्छे फॉर्म में है. नीदरलैंड के ब्रेडा में आयोजित चैंपियन्स ट्रॉफी 2018 में भारतीय हॉकी टीम फाइनल में पहुंचने में पहुंची थी. ग्रुप मैचों में टीम इंडिया ने ओलंपिक चैंपियन अर्जेंटीना की सशक्त टीम को धूल चटाई थी. 

Asian Games 2018: बॉक्सिंग में गोल्ड मेडल पर पंच लगाएंगे विकास कृष्ण, रच सकते हैं इतिहास

एशियन गेम्स 2018: जेवलिन थ्रोअर नीरज चोपड़ा बोले- मेडल पर नहीं, सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन पर है मेरा ध्यान

 

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App