नई दिल्ली. 18वें एशियाई खेलों में भारत को आज फिर अपने पहलवानों से मेडल की उम्मीद है. भारत ने कल एशियाई खेलों में पहले दिन 65 किलो वर्ग में स्वर्ण पदक जीता. भारत को ये पदक पहलवान बजरंग पूनिया दिलाया था. आज सबकी निगाहें महिला पहलवान पूजा ढांडा पर टिकी हैं. एशियाई खेलों के दूसरे दिन आज पूजा 57 किग्रा भार वर्ग में पदक जीत सकती हैं.

आपको जानकर हैरानी होगी कि पूजा ढांडा पहला प्यार कुश्ती नहीं हैं. उन्हों ने अपने करियर की शुरुआत एक जूडो खिलाड़ी के तौर की थी. लेकिन साल 2009 में उन्होंने ने एशियन चैंपियन कृपा शंकर के कहने पर कुश्ती की तरफ रुख किया. उसके बाद फिर पूजा ने पीछे मुड़कर नहीं देखा.

साल 2010 में पूजा ग्रीष्म कालीन यूथ ओलंपिक में 60 किग्रा महिला वर्ग में सिल्वर मेडल जीता. 2017 में पूजा ने नेशनल चैंपियनशिप में बबिता फोगाट को हराकर पदक जीता. पूजा की सफलता का सफर जारी रहा और उन्होंने गोल्ड कोस्ट ऑस्ट्रेलिया में आयोजित राष्ट्रमंडल खेलों में सिल्वर मेडल जीता. पूजा ढांडा ने ये सिल्वर मेडल 57 किग्रा भार वर्ग में जीता था.

पूजा ढांडा का जन्म 1 जनवरी 1994 को हरियाणा के हिसार जिले के बुडाना गांव में हुआ था. आमिर खान की दंगल फिल्म में बबिता फोगाट का रोल पूजा को ऑफर किया गया था लेकिन पूजा ने चोट के कारण रोल नहीं कर सकीं. इसके बाद नेशनल चैंपियनशिप के रियल मुकाबले में पूजा ने बबिता फोगाट की बहन गीता फोगाट को हराया था.

एशियन गेम्स 2018ः जानिए कौन हैं एशियाड में भारत को सिल्वर मेडल दिलाने वाले दीपक कुमार

Asian Games 2018 Schedule Day 2: जानिए दूसरे दिन का एशियाई खेलों में भारतीय टीम का पूरा शेड्यूल

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App