नई दिल्ली. 18वें एशियाई खेलों से महिला कुश्ती में भारत के लिए बड़ी खबर है. भारत की महिला पहलवान विनेश फोगाट ने 50 किग्रा भार वर्ग में कमाल कर दिया. उन्होंने अपने प्रतिद्वंदी को हरा कर 50 किग्रा महिला वर्ग में स्वर्ण पदक जीत लिया. विनेश फोगाट की इस उपलब्धि पर पूरे देश में जश्न का महौल है. एशियाई खेलों के पहले दिन बजरंग पूनिया ने पुरुष वर्ग के 65 किग्रा भार वर्ग में पहला गोल्ड मेडल जीता था.

18वें एशियाई खेलों में पदक जीतने वाली विनेश फोगाट ने कई राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय प्रतियोगिताओं में अपना लोहा मनवाया है. साल 2013 में विनेश फोगाट ने साउथ अफ्रीका के जोहानिसबर्ग में आयोजित कॉमनवेल्थ रेसलिंग चैंपियनशिप में 51 किग्रा भार वर्ग में सिल्वर मेडल जीता था. साल 2014 में विनेश ने ग्लास्गो राष्ट्रमंडल खेलों में 48 किग्रा भार वर्ग में स्वर्ण पदक जीता. गोल्ड कोस्ट ऑस्ट्रेलिया में आयोजित 2018 राष्ट्रमंडल खेलों में विनेश ने अपना दम दिखाते हुए 50 किग्रा वर्ग में स्वर्ण पदक पर कब्जा किया.

2014 इंचियोन एशियाई खेलो में 48 किग्रा भार वर्ग में वह कांस्य पदक जीतने में सफल रहीं. विनेश फोगाट सबसे ज्यादा एशियन चैंपियनशिप में सफल रहीं. उन्होंने एशियन चैंपियनशिप में 5 पदक जीते हैं जिनमें 3 सिल्वर और 2 कांस्य पदक शामिल हैं.

23 वर्षिय इस महिला पहलवान का जन्म 25 अगस्त 1994 में हरियाण के बलाली में हुआ. उनके पिता महावीर सिंह फोगाट भी पहलवान रहे हैं. इतना ही नहीं देश-विदेश में कई पहलवानों को चित कर चुकीं गीता फोगाट और बबिता फोगाट उनकी कजिन बहनें हैं. उनकी दोनों चचेरी बहनों ने कॉमनवेल्थ गेम्स में पदक जीते हैं. विनेश फोगाट की एक और कजिन बहन रीतू फोगाट ने 2016 में कॉमनवेल्थ रेसलिंग चैंपियनशिप में गोल्ड मेडल जीता था.

Asian Games 2018: भारत को पहला गोल्ड दिलाने वाले बजरंग पूनिया ने पूर्व PM अटल बिहारी वाजपेयी को समर्पित किया मेडल

Asian Games 2018 Day 1, highlights: 18वें एशियाई खेलों में पहलवान बजरंग पूनिया ने भारत को दिलाया पहला गोल्‍ड

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App