नई दिल्ली. भारत के स्टार भाला फेंक एथलीट और 18वें एशियाई खेलों में भारतीय दल के ध्वजवाहक नीरज चोपड़ा से इस बार गोल्ड की काफी उम्मीद है. नीरज चोपड़ा ने कहा है कि एशियाई खेलों में अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करेंगे. उन्होंने कहा कि इस समय में मेडल के बारे में नहीं सोच रहा हूं. उन्होंने कहा कि मैं इस वक्त किसी प्रकार के दबाव में फंसना नहीं चाहता हूं. उन्होंने कहा कि वह इस वक्त अच्छा प्रदर्शन करने पर ध्यान दे रहा हूं. नीरज चोपड़ा ने कहा कि उद्घाटन समारोह में देश का झंडा लेकर चलना सम्मान की बात है.

भारत के स्टार भाला फेंक एथलीट नीरज चोपड़ा को 18 अगस्त को एशियाई खेलों के उद्घाटन समारोह के लिए भारतीय दल का ध्वजवाहक चुना गया है. नीरज चोपड़ा हरियाणा के पानीपत ज़िले के खांडरा गांव के रहने वाले हैं. नीरज चोपड़ा ने साल 2016 में साउथ एशियन गेम्स में 82.23 मीटर दूर भाला फेंककर नया नेशनल रिकॉर्ड बनाया था.

20 साल के नीरज मौजूदा राष्ट्रमंडल खेलों के चैंपियन हैं. नीरज चोपड़ा ने पिछले माह फिनलैंड में सावो खेलों में गोल्ड मेडल जीता था. भाला फेंक एथलीट नीरज चोपड़ा ने 2017 में एशियाई एथलेटिक्स चैंपियनशिप में 85.23 मीटर के थ्रो में स्वर्ण पदक जीता था. नीरज चोपड़ा ने पोलैंड में 2016 आईएएएफ विश्व अंडर-20 चैंपियनशिप में भी गोल्ड मेडल जीता था.

गौरतलब है कि साल 2014 में दक्षिण कोरिया के इंचियोन में हुए पिछले एशियाई खेलों में पूर्व हॉकी कप्तान सरदार सिंह भारतीय दल के ध्वजवाहक थे. भारतीय खिलाड़ियों ने इंचियोन में पिछले चरण में 11 गोल्ड, 10 रजत और 36 कांस्य पदक से कुल 57 पदक जीते थे.

एशियन गेम्स 2018: चोट और मूवी ने पहलवान गीता फोगाट को किया चित

एशियन गेम्स 2018ः चिराग शेट्टी और सात्विक रेड्डी पर होगी भारत को पुरूष युगल में पहला गोल्ड दिलाने की जिम्मेदारी

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App