नई दिल्लीः एशियन खेलों के लिए भारतीय पुरूष कबड्डी टीम के साथ भारतीय महिला कबड्डी टीम से भी लोगों को गोल्ड की उम्मीद हैं. महिला कबड्डी एशियाई खेलों में 2010 से शामिल हुई थी, तब से भारतीय महिलाओं ने लगातार गोल्ड मेडल जीता है. भारत ने 2010 ग्वांगझू खेलों में थाइलैंड को 28-14 से हराकर गोल्ड जीता था जबकि 2014 इंच्योन खेलों में ईरान को 31-21 से हराकर सोना झटका था. भारतीय महिला कबड्डी टीम की निगाहें इस बार गोल्ड की हैट्रिक पूरी करने पर होगी. भारतीय महिला टीम का हालिया फॉर्म भी शानदार रहा है. 

भारतीय महिला टीम में शामिल सभी महिलाएं आत्मविश्वास से भरी हुई हैं. महिला टीम में शामिल प्रियंका और कविता ने कहा कि टीम पिछले तीन महीने से इस टूर्नामेंट के लिए अभ्यास कर रही है और वे एशियन गेम्स में अच्छा प्रदर्शन करेंगी. हालांकि भारतीय महिलाओं के हालिया फॉर्म, आत्मविश्वास और प्रदर्शन को देखते हुए टीम का गोल्ड पक्का माना जा रहा है लेकिन ईरान उसे कड़ी टक्कर दे सकती है. महिला कबड्डी मैच 19 अगस्त से शुरू होंगे जो कि 24 अगस्त तक चलेंगे. 24 अगस्त को महिला कबड्डी का फाइनल होगा.

भारतीय महिला कबड्डी टीम इस प्रकार है-

साक्षी कुमारी, कविता देवी, प्रियंका नेगी, मनप्रीत कौर, सयाली केरीपेल, रनदीप कौर, उषा रानी, मधु, पायल चौधरी, रितु नेगी, सोनाली शिंगाटे, शालिनी पाठक

स्टैंड बाई- प्रियंका, शमा परवीन

 

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App