नई दिल्लीः इस एशियन खेलों में जिस खेल से पदकों की उम्मीद सबसे अधिक की जा रही है, उनमें बैडमिंटन भी एक है. इसका कारण यह भी है कि पिछले 4 सालों में हमारे शटलर्स ने विश्व स्तर पर बेहतरीन प्रदर्शन किया है. अब बैडमिंटन में हमारे पास ना सिर्फ साइना और पीवी सिंधु हैं, बल्कि पुरूष एकल में भी श्रीकांत और साईं प्रणीत जैसे खिलाड़ी हैं. इसके अलावा भारत के पास चिराग शेट्टी और सात्विक रेड्डी नाम की एक युगल जोड़ी भी है, जिससे एशियाई खेलों में पदक की उम्मीद की जा सकती है.

इस जोड़ी की सबसे खास बात ये है कि यह जोड़ी युवा होने के बावजूद विश्व स्तर पर लगातार अच्छा प्रदर्शन कर रही है. इस जोड़ी ने कॉमनवेल्थ खेलों में शानदार प्रदर्शन किया था और फाइनल तक पहुंचकर सिल्वर मेडल पर कब्जा जमाया था. इसके अलावा विभिन्न अंतरराष्ट्रीय प्रतियोगिताओं में भी यह युवा जोड़ी शानदार प्रदर्शन कर रही है. कॉमनवेल्थ के बाद इंडोनेशिया और मलेशिया ओपन में यह जोड़ी प्री क्वॉर्टर फाइनल तक पहुंची थी. हालांकि जुलाई में हुई वर्ल्ड बैडमिंटन चैंपियनशिप में यह जोड़ी राउंड ऑफ 64 से आगे नहीं बढ़ पाई थी.

इस जोड़ी की सबसे खास बात यह है कि यह अभी काफी युवा है और आगे इस जोड़ी से काफी उम्मीदें की जा सकती हैं. 17 साल के सात्विक रंकीरेड्डी मुंबई के निवासी है जबकि 20 साल के चिराग शेट्टी आंघ्र प्रदेश से आते हैं. दोनों खिलाड़ी 6 फीट से लंबे हैं और इसका उन्हें फायदा भी मिलता है. इस जोड़ी ने 2016 में ही टाटा इंडिया ओपन जीतकर सनसनी फैला दी थी. इसके बाद इन दोनों ने ओलिंपिक और वर्ल्ड चैंपियन मारकिस किडो और हेंडरा गुनावन को हराकर वियतनाम ओपन 2017 का खिताब जीता था. इसलिए इन दोनों से उम्मीदें भी बढ़ जाती हैय अपना पहला एशियन गेम्स खेल रहे दोनों युवा खिलाड़ी इस वर्ग में भारत को पहला गोल्ड मेडल दिलाने उतरेंगे. रंकीरेड्डी इस टूर्नामेंट में अश्विनी पोनप्पा के साथ मिक्स्ड डबल्स में भी उतरेंगी.

एशियन गेम्स 2018: बैडमिंटन में श्रीकांत किदांबी से स्वर्णिम उम्मीद

Asian Games 2018: एशियन गेम्स में बैडमिंटन स्टार पीवी सिंधू से गोल्ड की उम्मीद

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App