नई दिल्लीः अंडर-20 विश्व एथलेटिक्स चैंपियनशिप में स्वर्ण पदक जीतकर इतिहास रचने वाली गोल्डेन गर्ल हिमा दास एशियन खेलों की 4*400 मीटर रिले दौड़ स्पर्धा में भाग नहीं लेंगी. वह ऐसा किसी चोट की वजह से नहीं बल्कि 200 और 400 मीटर दौड़ में फोकस करने के लिए करेंगी. यह निर्णय हिमा दास के साथ एथलेटिक्स फेडरेशन ऑफ इंडिया ने लिया है. उन्होंने ऐसा निर्णय रिले रेस और 200 व 400 मीटर रेस की टाइमिंग में बहुत कम अंतर होने के कारण लिया है. आपको बता दें कि एशियाड में इस बार से ही 4*400 मिक्स्ड टीम रिले इवेंट शुरू हुआ है.

भारतीय एथलेटिक्स टीम के राष्ट्रीय कोच बसंत सिंह ने मीडिया को इस संबंध में जानकारी बताया कि 200 मीटर और मिक्स्ड टीम रिले स्पर्धा के बीच में बहुत कम समय का अंतर है. ऐसे में हिमा का दोनों स्पर्धाओं में भाग लेना मुश्किल है. हालांकि बसंत सिंह का भी मानना है कि यदि हिमा मिक्स्ड रिले टीम में रहती तो इससे टीम के प्रदर्शन पर बड़ा फर्क पड़ता. हालांकि कोच बसंत सिंह ने हिमा के चोटिल होने की किसी भी आशंका से इनकार किया है.

बसंत सिंह ने कहा कि कोई चिंता वाली कोई बात नहीं है, बस उन्हें ब्रेक दिया गया है ताकि वह तरोताजा होकर एशियाई खेलों में भाग ले सकें. इसलिए उन्हें किसी भी घरेलू प्रतियोगिताओं में भाग लेने से रोका गया है. कोच को पूरा विश्वास है कि हिमा जकार्ता में होने जा रही प्रतियोगिता में अपना सर्वश्रेष्ठ देंगी और अपना प्रदर्शन और भी बेहतर करेंगी. बसंत सिंह ने कहा कि हिमा संभवतः 400 मीटर में 51 और 200 मीटर में 23 सेकंड के बैरियर को पार कर जाएं. आपको बता दें कि हिमा का 200 मीटर में सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन 23.10 सेकंड का है. जबकि 400 मीटर में भारत की तरफ से राष्ट्रीय रिकॉर्ड मनजीत कौर के नाम दर्ज है, जिन्होंने 2004 में चेन्नई में 51.05 सेकंड में रेस पूरी की थी.

एशियाई गेम्स 2018: भारतीय पुरुष व महिला हॉकी टीम का फुल शेड्यूल

VIDEO: राष्ट्रगान बजते वक्त हिमा दास के आंखों से छलके आंसू, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी बोले- सभी को देखना चाहिए यह पल

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App