नई दिल्ली. आईपीएल स्पॉट फिक्सिंग मामले में चेन्नई सुपरकिंग्स के अधिकारी गुरुनाथ मयप्पन और राजस्थान रॉयल्स के मालिक राज कुंद्रा को लोढ़ा समिति ने दोषी करार दिया है. मयप्पन-कुंद्रा पर आजीवन बैन लगाया गया है. वहीं चेन्नई सुपरकिंग्स और राजस्थान रॉयल्स की टीम पर भी दो साल का बैन लगाया है. अब दोनों टीमें आईपीएल और चैंपियंस लीग में हिस्सा नहीं ले पाएगी. 

धोनी की टीम CSK पर लगा 2 साल का बैन, राजस्थान पर भी गिरी गाज

आपको बता दें कि भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने पिछले साल स्पॉट फिक्सिंग की जांच कर रहे जस्टिस मुद्गल समिति से कहा कि गुरूनाथ मयप्पन केवल एक क्रिकेट प्रशंसक हैं और चेन्नई सुपर किंग्स टीम का समर्थन करते है. धोनी ने इस बात की पुष्टि की थी कि आईसीसी के चेयरमैन एन श्रीनिवासन के दामाद मयप्पन सीएसके के अधिकारी नहीं है और महज एक प्रशंसक ही है. 

IPL स्पॉट फिक्सिंग: मयप्पन और कुंद्रा पर लाइफटाइम बैन

धोनी के अलावा समिति के सामने प्रस्तुत हुए इंडिया सीमेंट्स के अधिकारियों ने भी बताया कि मयप्पन का इंडिया सीमेंट्स में कोई शेयर नहीं है और इसलिए उन्हें सीएसके का मालिक भी नहीं समझा जा सकता है. लेकिन, लोढ़ा समिति ने धोनी की बात को नकारते हुए मयप्पन को सीएसके का अधिकारी माना है और टीम पर दो साल के लिए बैन लगा दिया है. 

तारीखों में जानिए आईपीएल स्पॉट फिक्सिंग की पूरी कहानी

 

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App