नई दिल्ली. धर्मशाला में 900वें वनडे में जीत दर्ज करने के बाद दिल्ली के मैदान पर भी न्यूजीलैंड को टीम इंडिया मात देने के इरादे से उतरेगी. भारत ने अपने पहले वनडे में मेहमान टीम को एकतरफा मैच में छह विकेट से हरा दिया था.
 
भारतीय टीम कीवी टीम के साथ फिरोजशाह कोटला में 20 अक्टूबर को अपना दूसरा वनडे मुकाबले खेलेगी. इस मैच में जीत के साथ ही टीम इंडिया सीरीज में अपनी पकड़ मजबूत करना चाहेगी.
 
टॉस होगा अहम
कोटला के मैदान की पिच गेंदबाजों और बल्लेबाजों को पूरी मदद देगी. इस लिहाज से टॉस भी काफी महत्वपूर्ण होगा. इन दिनों दिल्ली में शाम का मौसम ठंडा होने लगा है जिसका असर मैच पर भी दिखाई देगा.
 
रैना दूसरे मैच से भी बाहर
बुखार के कारण रैना दूसरे मैच से भी बाहर हो गए हैं. जबकि शिखर धवन टेस्ट सीरीज में अंगूठे की चोट लगने से ही बाहर हो गए थे. बल्लेबाजों को इनकी गैरमौजूदगी में अच्छी पारियां खेलनी होगी.
 
रोहित को खेलनी होगी लंबी पारी
वनडे में सर्वाधिक रनों की पारी का विश्व रिकॉर्ड अपने नाम रखने वाले रोहित शर्मा को विकेट पर टिककर लंबी पारी खेलनी होगी. ताकी न्यूजीलैंड के सामने बड़ा स्कोर खड़ा किया जा सके.
 
गेंदबाजों पर होगा दारोमदार
भारत के युवा गेंदबाज हार्दिक पांड्या, उमेश यादव, स्पिनर अक्षर पटेल और अमित मिश्रा पर एक बार फिर विपक्षी टीम के बल्लेबाजों को पैवेलियन भेजने का दारोमदार होगा. 
 
11 सालों से नहीं हारा भारत
भारत पिछले 11 सालों में कोटला मैदान में खेले गए पिछले 13 टेस्ट और एकदिवसीय मैचों में एक बार भी नहीं हारा है. कप्तान महेंद्र सिंह धोनी का इस मैदान पर शानदार रिकॉर्ड रहा है. 
 
अहम सीरीज
न्यूजीलैंड के खिलाफ पांच मैचों की वनडे सीरीज अगले साल होने वाली चैंपियंस ट्रॉफी के लिहाज से बहुत महत्वपूर्ण है. भारत को चैंपियंस ट्रॉफी से पहले आठ वनडे मैच खेले जाने है जिसमें से एक मैच हो चुका है. इन मैचों के दौरान ही चैंपियंस ट्रॉफी के लिए भारत की टीम बनेगी.