नई दिल्ली. लोढ़ा कमेटी और भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड के बीच जारी विवाद थमने का नाम नहीं ले रहा है. वहीं सुप्रीम कोर्ट BCCI की पुर्नविचार याचिका पर दो हफ्ते बाद फैसला सुनाएगा. दो हफ्ते बाद फिर बेंच बैठेगी और पुर्नविचार याचिका पर सुनवाई की जाएगी. इस याचिका में मांग की गई थी कि बेंच में चीफ जस्टिस टीएस ठाकुर न हों. 
 
 
18 जुलाई को सुप्रीम कोर्ट ने बीसीसीआई को जस्टिस लोढ़ा कमेटी की सिफारिशों को पूर्ण रूप से लागू करने का फैसला सुनाया था. जिसको लेकर 16 अगस्त को बीसीसीआई ने पुनर्विचार याचिका दाखिल की थी.
 
 
बता दें कि बीसीसीआई की तरफ से दायर याचिका में कहा गया था कि सुप्रीम कोर्ट अपने फैसले पर फिर से विचार करे और इसके लिए पांच जजों की बेंच बनाई जाए. इसके अलावा यह मांग भी की गई थी कि बेंच में चीफ जस्टिस टीएस ठाकुर न हों.