नई दिल्ली. बीसीसीआई ने भारतीय क्रिकेटरों की टेस्ट मैच फीस में इजाफा कर दिया है. छह साल बाद की गई इस बढ़ोतरी से खिलाड़ियों की फीस दोगुनी हो गई है. अब खिलाड़ियों को एक टेस्ट के लिए 15 लाख रूपये मिलेंगे.
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
बोर्ड अध्यक्ष अनुराग ठाकुर के मुताबिक टेस्ट क्रिकेट को प्राथमिकता देने के लिहाज से यह बढ़ोतरी की गई है. अगर टेस्ट में खिलाड़ियों का रुझान बढ़ाना है तो उन्हें अच्छा भुगतान भी करना होगा. उन्होंने बताया कि बोर्ड की वर्किंग कमेटी की हुई बैठक में फीस बढ़ाने का फैसला लिया गया.
 
बढ़ोतरी से पहले एक टेस्ट के लिए खिलाड़ियों को 7 लाख रूपये मिलते थे. इससे पहले 2010 में टेस्ट खिलाड़ियों की फीस बढ़ाई गई थी. टेस्ट क्रिकेट को बढ़ावा देने के लिए मैच फीस में बढ़ोतरी करने का निर्णय लिया गया है. 
 
 
बता दें कि इस बढ़ोतरी के साथ ही भारतीय खिलाड़ी टेस्ट में सबसे ज्यादा सैलरी पाने वाले क्रिकेटर बन गए हैं. अब तक इंग्लैंड नंबर एक पर था. भारत के बाद अब दूसरे पायदान पर इंग्लैंड 10 लाख रूपये, तीसरे पर ऑस्ट्रेलिया 7 लाख रूपये और चौथे स्थान पर पाकिस्तान 4 लाख रूपये पर है.