कोलकाता. कोलकाता के मैदान पर खेले जा रहे है भारत-न्यूजीलैंड के बीच दूसरे टेस्ट मैच का दूसरे दिन भारतीय गेंदबाज भुवनेश्वर कुमार के नाम रहा. भुवनेश्वर ने पारी की शुरूआत से ही बल्लेबाजों के नाक में दम करके रखा. एक के बाद एक न्यूजीलैंड के बल्लेबाज भारतीय गेंदबाज के कहर के आगे घुटने टेकने पर मजबूर हो गए. दूसरे दिन खेल खत्म होने तक न्यूजीलैंड ने 7 विकेट खोकर 128 रन बना लिए हैं.
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
316 ही बना पाई टीम इंडिया
इससे पहले न्यूजीलैंड के गेंदबाजों ने भारतीय टीम को 316 रनों पर ही रोक दिया. दूसरे दिन 239 के स्कोर से आगे खेलने आई टीम इंडिया के निचले क्रम के बल्लेबाजों ने संभल कर खेलते हुए रन बटोरने शुरू किए. रिद्धीमान साहा मैदान को एक छोर से पकड़े हुए थे और रन की गति बनाए हुए थे. दिन का पहला झटका रविंद्र जडेजा के रूप में लगा. जडेजा 14 रन बनाकर वैगनर का शिकार बने. इसके बाद भुवनेश्वर कुमार भी ज्यादा देर क्रीज पर टिक नहीं पाए और सैंटनर की गेंद पर चकमा खाकर एलबीडब्ल्यू आउट हो गए. अंतिम विकेट के रूप में मोहम्मद शमी का विकेट गिरा. शमी ने 14 रन की पारी खेली. साहा के नाबाद 54 रन की बदौलत टीम 300 का आंकड़ा पार कर पाने में कामयाब हो पाई. 
 
लगे शुरुआती झटके
316 रनों का पीछा करने आई न्यूजीलैंड की टीम को भारतीय गेंदबाजों ने शुरुआती झटके देकर बैकफुट पर ला दिया. 10 रनों के स्कोर पर शमी ने दूसरे ओवर मे ही टॉम लैथम का विकेट लेकर उन्हें पैवेलियन का रास्ता दिखा दिया. अगले ओवर में मार्टिन गुप्टिल का आउट कर भुवनेश्वर ने न्यूजीलैंड के पाले में खलबली ही मचा डाली. न्यूजीलैंड के बल्लेबाजों ने संभल कर खेलना शुरू ही किया था कि भुवनेश्वर ने हेनरी का विकेट 23 रनों के स्कोर पर लेकर मेहमान टीम को तीसरा झटका भी दे दिया.
 
भुवनेश्वर ने बरसाया कहर
तीन बल्लेबाजों का विकेट जल्दी गंवाने के बाद कप्तान रॉस टेलर और ल्यूक रौंची ने स्कोर को आगे बढ़ाया. लेकिन रौंची जडेजा की फिरकी को समझ नहीं पाए और एलबीडब्ल्यू आउट हो गए. कप्तान टेलर भी विकेट पर ज्यादा रन नहीं बना पाए और पांचवे विकट के रूप में भुवनेश्वर की गेंद पर विजय को कैच थमा बैठे. भुवनेश्वर का कहर यहीं नहीं रूका. बैक टू बैक दो विकेट लेकर भुवनेश्वर ने सैंटनर को एलबीडब्ल्यू और मैट हेनरी की गिल्लियां बिखेर कर टीम को दो और सफलता दिला दी.
 
 
दूसरे दिन के हीरो भुवनेश्वर कुमार रहे. जिन्होंने दस ओवर में 33 रन देकर 5 विकेट अपने नाम किए. शमी और जडेजा को 1-1 सफलता हाथ लग पाई. खेल खत्म होने तक न्यूजीलैंड की और से वाटलिंग (12) और पटेल (5) क्रीज पर बने हुए है.