कोलकाता. ऐतिहासिक 500वें मैच में जीत दर्ज करने के बाद टीम इंडिया कोलकाता के ईडन गार्डन्स पर अपने घरेलू मैदान पर 250वां मैच खेलने के लिए उतरेगी. भारत-न्यूजीलैंड के बीच खेली जा रही तीन टेस्ट मैचों की सीरीज का दूसरा मैच शुक्रवार को खेला जाना है.भारत की टीम दूसरे मैच में जीत से पाकिस्तान को पछाड़कर टेस्ट क्रिकेट में नंबर वन का ताज अपने नाम कर सकती है. इस जीत के साथ टीम सीरीज पर भी कब्जा कर लेगी.
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
पाकिस्तान के 111 अंक है और भारत के 110 अंक है. इन कारणों से जीत हासिल कर दूसरे टेस्ट में टीम इंडिया पाकिस्तान को पछाड़ टेस्ट क्रिकेट में पहले स्थान पर काबिज हो सकती है..
 
ईडन पर भारत का अच्छा रिकॉर्ड
भारत रिकॉर्ड के लिहाज से काफी मजबूत स्थिति में है. कोलकाता में खेले गए 39 टेस्ट मैचों में भारत ने 11 में जीत दर्ज की है तो 9 में उसे हार का सामना करना पड़ा है. वहीं 19 मैच ड्रॉ रहे हैं. ईडन पर भारत और न्यूजीलैंड की बात की जाए तो दोनों टीमों के बीच 2 मैच खेले गए हैं और दोनों ही ड्रॉ रहे हैं. भारत का जीत के लिहाज से यह तीसरा सबसे सफल मैदान है.
 
स्पिनर्स पर होगा दारोमदार
पहले मैच में भारत के स्पिनर्स ने अपनी फिरकी से न्यूजीलैंड के बल्लेबाजों को घुटने टेकने पर मजबूर कर दिया था. इस मैच में 20 में से 16 विकेट स्पिनर्स ने लिए थे. ईडन में भी स्पिनर्स से इसी तरह के प्रदर्शन की उम्मीद की जाएगी.
 
 
बल्लेबाज बरसाएंगे रन
शानदार बैटिंग लाइनअप की बदौलत भारतीय टीम दूसरे टेस्ट में न्यूजीलैंड के सामने बड़ा स्कोर रख सकती है. पहले मैच में टीम के शुरूआती बल्लेबाजों ने जमकर रन बरसाए थे. इनमे मुरली विजय, चेतेश्नर पुजारा, और केएल राहुल ने मिलकर चार हॉफ सेंचुरी लगाई थी. निचले क्रम पर जडेजा और अश्विन भी खराब हालात में टीम को संभाल सकते हैं.
 
लगातार जीत से हौसले बुलंद
इंग्लैंड के खिलाफ 2012 में हार के बाद घरेलू मैदान पर टीम इंडिया 12 टेस्ट मैचों से हारा नहीं है. इन 12 टेस्ट मैचों में 2 मैच ड्रॉ होने और 10 मैचों में जीत के साथ टीम के हौसले काफी बुलंद है. टीम इंडिया 13 महीनों से कोई टेस्ट ना हारने वाली एक मात्र टीम है. 
 
 
गंभीर से होगी उम्मीदें
कोलकाता टेस्ट से गौतम गंभीर की दो साल बाद इंटरनेशनल क्रिकेट में वापसी हो रही है. गंभीर इस वक्त अच्छी फॉर्म में हैं. उनके टीम में वापसी करने से बैटिंग और मजबूत होगी.
 
पिच पर बाउंस से मिलेगी मदद
कोलकाता की पिच गेंदबाजों की बॉल को ज्यादा बांउस कराने में मदद करती है. ऐसे में मोहम्मद शमी कीवी टीम पर कहर बरसाने में कामयाब हो सकते हैं.