कानपुर.  कानपुर टेस्ट में भारत ने न्यूजीलैंड को 197 रन से हरा दिया है. इस जीत के हीरो आर. अश्विन रहे जिन्होंने 6 विकेट लेकर कीवी बल्लेबाजी की कमर तोड़ दी. इस जीत के साथ ही टीम इंडिया अब सीरीज में 1-0 से आगे हो गई है.

इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर

इससे पहले टीम इंडिया ने 434 रन का लक्ष्य दिया था. लेकिन भारतीय स्पिनर्स खासकर रवीचंद्रन अश्विन और रवींद्र जडेजा ने यह साबित कर दिया कि घरेलू मैदान में उनको खेलना आसान नहीं है. आज कीवी बल्लेबाजों ने जब पारी की शुरुआत की तो उनका स्कोर 4 विकेट पर 93 रन था. 
शुरू में न्यूजीलैंड के बल्लेबाज ल्यूक रोंची (80) और मिशैल स्टैनर (71) ने भारतीय तेज गेंदबाजों को खूब छकाया और एक बार ऐसा लगा कि यह दोनों टीम इंडिया की जीत के बीच में खूंटा गाड़कर खड़े हो गए हैं.  रोंची जडेजा की फिरकी में फंस गए और अश्विन को कैच थमा बैठे.
इसके बाद कप्तान विराट कोहली ने गेंद आर अश्विन को थमाई और उन्होंने 19 वीं बार 5 विकेट ले डाले. उनके शिकार इश सोढी़ (17), नेल वैगिनर (0) और स्टैनर बने.  इन तीन विकेटों के साथ ही वह सबसे तेज 200 विकेट लेने भारतीय गेंदबाज बन गए.
जडेजा को जहां इस पारी में एक विेकेट से संतोष करना पड़ा वहीं तेज गेंदबाजी मोहम्मद शामी ने भी दो बल्लेबाजों को आउट किया. कुल 6 विकेट लेने वाले अश्विन ने लंच के बाद भी तीन विकेट चटकाए. जिसकी बदौलत टीम इंडिया घरेलू मैदान में 88 वीं जीत दर्ज करने में कामयाब रही.  अब दोनों टीमों के बीच अगला टेस्ट मैच शुक्रवार को कोलकाता में होगा. 
 
कीवी बल्लेबाजों के लिए स्पिन बनी चुनौती
इस मैच के बाद एक बात तो साफ हो गई है कि कीवी बल्लेबाजी स्पिन के आगे पूरी तरह घुटने टेकती नजर आ रही है. आने वाले मैचों में भी उसे स्पिन विकेट का सामान करना पड़ेगा.