रियो. चार साल के प्रतिबंध और ओलंपिक से डिस्क्वॉलिफाई हुए पहलवान नरसिंह यादव ने आर-पार की लड़ाई लड़ने का मन बना लिया है. नरसिंह ने कहा कि, ‘मैं प्रधानमंत्री से अपील करता हूं कि इस मामले में हस्तक्षेप करें और देश का नाम मिट्टी में मिलाने वाले दोषियों को सजा दिलाएं. साथ ही यादव ने कहा कि, अगर मैं जांच में दोषी पाया जाता हूं तो, मुझे फांसी दे दी जाये.’
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
बता दें कि रियो ओलंपिक में भारत का प्रतिनिधित्व करने का नरसिंह का सपना उस समय टूट गया जब खेल पंचाट ने यादव को डोपिंग का दोषी करार देते हुए उनपर 4 साल का प्रतिबंध लगा दिया. 
 
74 किग्रा वर्ग के पहलवान नरसिंह ने कहा, ‘मेरा तो नाम बदनाम हुआ, इससे पूरे देश पर काला धब्बा लग गया. चाहे मुझे फांसी हो जाए, मैं इसकी छानबीन करवाउंगा। दिन-रात एक कर दूंगा.’
 

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App