रियो डी जेनेरियो. वेटलिफ्टर मीरा बाई चानू की हार के साथ ही रियो ओलंपिक के पहले दिन पदक की उम्मीदें खत्म हो गईं. ओलंपिक के पहले दिन पदक के लिए तीन मुकाबलों में भारत के पदक की आखिरी उम्मीद मीराबाई चानू से थी. 
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
48 किलोग्राम वर्ग मे महिला वेटलिफ्टर मीराबाई चानू नाकाम रहीं. क्लीन एण्ड जर्क ईवेंट में चानू 104 किलोग्राम वजन उठाने में सफल नहीं हो पाईं. 
 
 
पहले राउंड में उन्होंने 104 किलोग्राम वजन उठाने की कोशिश की जिसमें वो असफल रहीं. दूसरे राउंड में उन्होंने 106 किलोग्राम और तीसरे राउंड में 104 किलोग्राम  वजन उठाने में भी वो नाकामयाब रहीं.  
 
 
48 किलोग्राम वर्ग में स्वर्ण पदक थाईलैंड की सोपिता तानासान को मिला. इन्होने कुल 200 किलोग्राम वजन उठाया. रजत पदक इंडोनेशिया के झोली में और कांस्य पदक पर जापान ने कब्जा किया.   
 

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App