नई दिल्ली. क्रिकेटर सचिन तेंदुलकर ने मैदान के बाहर भी नये रिकॉर्ड बनाने का सिलसिला जारी रखा है. उनकी आत्मकथा ‘प्लेइंग इट माई वे’ को ‘लिम्का बुक ऑफ रिकॉर्ड्स’ में शामिल किया गया है. यह किताब सारे रिकॉर्ड्स तोड़ते हुए कथा और गैर कथा आधारित वर्ग में सबसे ज्यादा बिकने वाली पेपरबैक किताब बन गई है. इसकी अब तक 1 लाख 50 हजार 289 प्रतियां बिक चुकी हैं.
 
इसके पहले दिन के ऑर्डर ही प्री ऑर्डर और लाइफटाइम सेल्स दोनों में ही सबसे आगे है. इसने दुनिया के शीर्ष हार्डबैक डैन ब्राउन की ‘इनफर्नो’, वाल्टर इसाकसन की ‘स्टीव जाब्स’ और जे. के. रॉलिंग की ‘कैजुअल वैकेंसी’ को पीछे छोड़ दिया है. 
 
इस किताब का प्रकाशन हैचेट इंडिया ने किया है. जिसे 6 नवंबर 2014 में जारी किया गया था.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App