चंडीगढ़. पंजाब पुलिस ने भारतीय हॉकी टीम के कप्तान सरदार सिंह पर लगाए गए ‘यौन उत्पीड़न’ के आरोप की जांच के लिए विशेष जांच दल (एसआईटी) गठित की है. भारतीय मूल की ब्रिटिश महिला हॉकी खिलाड़ी ने बुधवार को सरदार पर यौन उत्पीड़न का आरोप लगाते हुए पुलिस में शिकायत दर्ज कराई. महिला ने सरदार को अपना मंगेतर भी बताया. 
 
अब तक दर्ज नहीं हुआ मामला
लुधियाना के पुलिस आयुक्त पी. एस. उमरानांगल द्वारा गठित इस जांच दल की अध्यक्षता अतिरिक्त पुलिस उपायुक्त एस. एस. अटवाल करेंगे. उनके अलावा जांच दल में दो और सदस्य हैं. गठित होने के साथ ही एसआईटी ने जांच भी शुरू कर दी. हालांकि पुलिस ने अब तक सरदार सिंह के खिलाफ मामला दर्ज नहीं किया है.
 
सरदार सिंह ने क्या कहा?
सरदारा सिंह ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा है की जो आरोप मुझ पर लगाए गए हैं वे बेबूनियाद हैं, मुझ पर लगे आरोपों पर मैं कानूनी रास्ता इख्तयार करूंगा. अभी में गेम पर ध्यान दे रहा हूं. हम लोग लंदन में फेसबुक पर मिले थे. उसके बाद वो मेरे घर पे भी वो आईं थीं. रही बात ट्विवटर की तो जब मैं स्पेन में खेल रहा था उस लड़की ने मेरे अकाउंट पासवर्ड यूज करके शादी का झूठा ट्वीट किया था. हम केवल अच्छे दोस्त थे, मैंने कोई एवोर्शन नहीं करवाया है सब झूठ है. हमारे बीच कोई संबंध नहीं बने हैं, न कोई मंगनी हुई है. मुझ पर गलत इल्जाम लगाए जा रहे हैं. मेरे लिए सिर्फ हॉकी प्रायॉरिटी रही है और सब बाद में. मैं हर इन्वेस्टिगेशन में हिस्सा लूंगा. मुझे भी सच सामने लाना है आखिर मुझ पर ये आरोप क्यों लगाए जा रहे हैं.
 
U-19 हॉकी टीम की खिलाड़ी है महिला
महिला ने सरदार सिंह पर ‘मानसिक, शारीरिक और भावनात्मक रूप से प्रताड़ित करने’ का आरोप लगाया है. शिकायतकर्ता महिला अंडर-19 ब्रिटिश महिला हॉकी टीम में शामिल होने वाली पहली सिख खिलाड़ी हैं. शिकायत लुधियाना जिले के कूमकलां पुलिस थाने में दर्ज कराई गई है. महिला ने लुधियाना के पुलिस आयुक्त पी.एस. उमरानांगल के पास शिकायत दर्ज करवाई, जिन्होंने मामले की जांच के निर्देश दिए.
 
महिला का क्या है आरोप?
महिला का आरोप है कि सरदार सिंह ने 2014 में उससे सगाई की. इसके बाद दोनों के बीच बने शारीरिक संबंध से वह पिछले साल गर्भवती भी हुईं. महिला ने आरोप लगाते हुए आगे कहा कि सरदार सिंह ने उन्हें गर्भपात के लिए मजबूर किया और धीरे-धीरे उन्हें नजरअंदाज करना शुरू कर दिया. 
 
कैसे नजदीक आए दोनो?
पुलिस को दर्ज शिकायत के अनुसार, दोनों के बीच सोशल नेटवर्किंग साइट के जरिए दोस्ती हुई और वह 2012 में सरदार सिंह से मिलीं. सरदार सिंह भी इससे पहले महिला की मौजूदगी वाली फोटो और ट्वीट साझा कर चुके हैं. सरदार के नजदीकी सूत्रों ने उनका बचाव करते हुए बताया कि महिला सरदार पर विवाह करने और इंग्लैंड में बसने का दबाव बनाने लगी थी, जिसके बाद सरदार ने उसके साथ अपने संबंध समाप्त कर लिए थे. उन्होंने बताया कि सरदार इंग्लैंड में बसना नहीं चाहते थे, लेकिन महिला उन्हें इंग्लैंड में बसने के लिए ब्लैकमेल करने लगी थी.

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App