मुंबई. आईपीएल स्पॉट फ़िक्सिंग मामले में बीसीसीआई की अनुशासन समिति ने राजस्थान रॉयल्स की ओर से खेलने वाले क्रिकेटर अजीत चंदीला पर आजीवन प्रतिबंध लगा दिया गया है. वहीं, मुबई के रणजी खिलाड़ी हिकेन शाह पर 5 साल का बैन लगा दिया गया है.

चंदीला को धारा 2:1:1, 2:1:2, 2:1:3, 2:1:4, 2:2:2, 2:2:3 और 2:4:1 के तहत दोषी करार दिया गया. इस फैसले के बाद वो न तो किसी तरह का क्रिकेट खेल पाएंगे ना ही बोर्ड की किसी गतिविधि से सीधे या परोक्ष रूप से जुड़ पाएंगे. कमेटी में बोर्ड अध्यक्ष शशांक मनोहर के अलावा, ज्योतिरादित्य सिंधिया और निरंजन शाह भी शामिल हैं.

चंदीला और शाह समिति के सामने पिछले साल 24 दिसंबर को पेश हुए थे. उन्हें उन पर लगाए गए आरोपों पर 4 जनवरी तक लिखित जवाब देने को कहा गया था. इसके बाद समिति ने पाकिस्तान के पूर्व अंपायर असद रउफ को भी नोटिस जारी करके आरोपों का जवाब देने को कहा था. समिति की 5 जनवरी को हुई बैठक में शाह ने लिखित जवाब दिया था. समिति ने रउफ को जवाब देने के लिए और मोहलत दी थी.

पूर्व अंपायर असद रउफ को भी सोमवार को पेश होना था, लेकिन उन्होंने दूसरे जांच अधिकारी के जरिए जांच की मांग की, जिसे बोर्ड ने खारिज कर दिया. कमेटी ने उन्हें अब 9 फरवरी तक आखिरी मोहलत दी है, नहीं तो 12 फरवरी को बोर्ड रऊफ पर फैसला सुनाएगा. रऊफ भी 2013 के आईपीएल स्पॉट फिक्सिंग मामले में नामजद थे. 

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App