नई दिल्ली: आज गांधी जयंती है, हर बार इस मौके पर दुनिया भर में गांधी के विचारों, उनकी दी गई सीख पर बातें होती हैं. हिन्दुस्तान अपने राष्टपिता को याद करता है. मीडिया रिपोर्ट्स में आप ये तमाम चीजें देखते हैं, सुनते हैं लेकिन इस बार दुनिया के सबसे ताकतवर मुल्क अमेरिका के दिलों में गांधी कितने ताकतवर हैं ये दिखा. सर्च इंजन गूगल पर लोग महापुरुषों के विचार उनकी बातों को खोजते-खंगालते हैं. अमेरिका में भी ऐसा होता है लेकिन गांधी यहां सबसे आगे हैं.
 
हिन्दुस्तान में तो शायद ही कोई शहर हो जहां गांधी कॉलोनी, गांधी रोड, गांधी चौक,गांधी ऑडिटोरियम,गांधी मैदान न गांधी के नाम से न हो. वॉशिंगटन से लेकर न्यूयॉक तक अमेरिका में कई चौराहे ऐसे हैं जहां गांधी ही गांधी हैं. पूरे अमेरिका में 20 जगहों पर गांधी के नाम पर ऐसे चौराहे हैं. जिन्हें ज्यादातर अमेरिकी जानते हैं. भारतीय दूतावास के सामने ही गांधी की करीब 50 प्रतिमाएं हैं और इन सबसे कहीं ज्यादा गांधी अमेरिका के लोगों के दिलों में जीते हैं. सबसे ज्यादा उनकी बातें करते हैं. ये सब उस अमेरिका में होता है जो हमेशा दौड़ता-भागता रहता है. कभी न थकने वाला कभी पूरी तरह नहीं सोने वाला मुल्क माना जाता है.
 
पूरे अमेरिका में 11 टाइम जोन हैं, 9 ऑफिसियल-2 अनऑफिसियल. टाइम जोन में अंतर 8 घंटे तक का है. मतलब एक जगह जब लोग दफ्तर से घर लौट रहे होते हैं तो दूसरी जगह दफ्तर पहुंच रहे होते हैं. काम की इस आपाधापी में भी अमेरिकी पढ़ने के लिए समय निकालते हैं. गूगल जैसे सर्च इंजन पर वो हमेशा नई और मौलिक चीजों की खोज में रहते हैं. इसी खोज को लेकर एक आंकड़ा सामने आया है. जिसमें ये बातें सामने आई कि आज भी अमेरिका सबसे ज्यादा गांधी को खोजता है.
 
इसी साल जब दुनिया के सबसे बड़े लोकतंत्र में राष्ट्रपति के लिए चुनाव हो रहे थे और मुकाबला कांटे का था उसी दौरान डोनल्ड ट्रंप की एक बातें लोगों में जबर्दस्त हिट हुई. ट्रंप ने चुनाव के दौरान मंच से गांधी के एक मशहूर कोट को इंस्टाग्राम के जरिए लोगों के सामने रखा. वो था ‘पहले वे आपको नजरअंदाज करते हैं, फिर वो आप पर हंसते हैं, उसके बाद वो आपसे लड़ते हैं और आखिर में आपकी जीत होती है’
 
कहते हैं ट्रंप का पूरा चुनावी अभियान इसी थीम पर आधारित रहा और सिर्फ ट्रंप ही नहीं हिलरी क्लिंटन ने भी अपनी बात लोगों तक पहुंचाने के लिए गांधी को कोट किया. अमेरिकी चुनाव में हर तरफ गांधी की चर्चा होने लगी. हैरानी की बात ये है कि ये सब उस अमेरिका में हुआ और होता है जहां कभी गांधी गए नहीं लेकिन यहां उनको मानने वाले बड़ी संख्या में हैं. मूल रूप से अमेरिका के लोगों के बीच भी वो उतने ही मशहूर हैं. वो लोग जो हिन्दुस्तान से जाकर वहां बसे हैं वो तो हर दिन गांधी के विचारों उनकी सीख के साथ अपने दिन की शुरूआत ही करते हैं.
 
(वीडियो में देखें पूरा शो)

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App