नई दिल्ली. सर्जिकल स्ट्राइक का सीक्रेट रूट यानी वो खुफिया रास्ता जो पीओके में छिपे आतंकियों के लिए मौत का सबब बन गया. सीमा पार पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर में जहां आतंकियों ने डेरा डाल रखा था. पीओके में घुसकर दहशतगर्दों का दम निकालने वाली हिंदुस्तान की सेना का शौर्य पाकिस्तान ने भी देखा और पूरी दुनिया ने भी महसूस किया.
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
उसकी खुफिया जानकारी तो सेना के पास पहले ही पहुंच चुकी थी. लेकिन अब तय ये करना था कि हमारे कमांडो आतंकियों के लॉन्चिंग पैड्स तक पहुंचेंगे कैसे क्योंकि एलओसी से लेकर टेररिस्ट कैंप तक कदम कदम पर पाकिस्तानी रेंजर्स का पहरा था और ऐसे में हमारे जवानों के लिए किसी अनजान रास्ते से जाना निहायत ही खतरनाक था.
 
तो फिर आतंकियों तक कैसे पहुंची हमारी कमांडो टीम और कैसे किया उनका खात्मा बारी बारी से देखते जाइए सर्जिकल स्ट्राइक का पूरा सच.लेकिन एक सवाल जो सबके जहन में है वो ये कि आखिर हिंदुस्तान के स्पेशल कमांडोज आतंकियों तक पहुंचे कैसे ?  इंडिया न्यूज आज आपको दिखाने जा रहा है. ‘सर्जिकल स्ट्राइक’ का वो सीक्रेट रूट, जिनसे खुद पाकिस्तान भी बेखबर था. वीडियो पर क्लिक कर देखिए पूरा शो