नरेंद्र मोदी की हवा को रोकने के लिए मुलायम सिंह यादव ने जनता परिवार का गठन किया. बिहार चुनाव के मद्देनजर लालू प्रसाद यादव और नीतीश कुमार को एक किया. इतना ही नहीं वो मुलायम सिंह ही थे जिन्होंने नीतीश कुमार की बतौर सीएम उम्मीदवार जमकर पैरवी भी की जिसके बाद नीतीश को महागठबंधन की ओर से सीएम उम्मीदवार घोषित किया गया. लेकिन बिहार चुनाव से पहले ही मुलायम सिंह यादव ने अपने चिर परिचित अंदाज में फिर से चुनावी दांव मारा और महागठबंधन से रिश्ता तोड़ दिया. आलम ये है कि अब खुद मुलायम सिंह नीतीश को कोसते नजर आते हैं. मुलायम सिंह महागठबंधन से क्यों नाराज हुए, देखिये स्माइल प्लीज़ के इस एपिसोड में…

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर