कहते हैं कि मिठाई कड़वाहट दूर करती है लेकिन इन दिनों रसगुल्ले ने पश्चिम बंगाल और ओडिशा के संबंधों में कड़वाहट घोल दी है. पश्चिम बंगाल का दावा है कि रसगुल्ले का अविष्कार उनके यहां हुआ जबकि ओड़िशा दावा कर रहा है कि रसगुल्ले का इतिहास उनके राज्य से जुड़ा है.
 
अब रसगुल्ले का जिओलॉजिकल इंडिकेशन यानी भौगोलिक पहचान करवाने का फैसला हुआ है जिससे यह पता लगाया जाएगा कि रसगुल्ला आखिर किस राज्य की देन है? इसी पर देखिए एनिमेटेड वीडियो….

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App