लखनऊ: फिल्म में एक सिंघम ने ही जुर्म की दुनिया में खलबली मचा दी थी. ज़रा सोचिये अगर किसी सूबे में एक साथ सवा लाख पुलिसवाले सिंघम के अवतार में आ जाएं तो वहां बदमाशों की क्या हालत होगी. इस ख्याल को अगर हकीकत में देखना है तो रुख कीजिये यूपी का जहां सीएम योगी के आदेश पर पुलिस चुन-चुन कर बदमाशों को उनके अंजाम तक पहुंचा रही है. जी हां यूपी में जुर्म की दुनिया में हड़कंप मचा हुआ है और इसकी वजह हैं सवा लाख सिंघम…

दरअसल योगी सरकार में अपराधियों के खिलाफ की गई कार्रवाई को लेकर पुलिस ने रिपोर्ट जारी की है. रिपोर्ट कहती है कि बीते 9 महीने के दौरान बदमाशों के साथ कुल 921 बार मुठभेड़ हुई और बाजी करीब करीब हर बार पुलिस ने मारी.. एनकाउंटर के दौरान 31 बदमाशों को मौके पर ही ढेर कर दिया गया. जबकि 2000 से ज्यादा बदमाशों को गिरफ्तार कर जेल में ठूंस दिया गया है. ये ऑपरेशन अब भी जारी है और अपराधियों में हाहाकार मचा हुआ है. योगी सरकार में अपराधियों का बुरा वक्त तो शुरू हुआ था मार्च 2017 में. लेकिन खत्म होने की कोई तारीख तय नहीं है, क्योंकि नए साल को अभी दस दिन गुजरे हैं और एनकाउंटर की तकरीबन 10 घटनाएं सामने आ चुकी हैं. इस दौरान कई बदमाशों को दबोचा गयातो कई को ढेर कर दिया गया है. यानी साल 2018 भी यूपी के अपराधियों के लिए काल ही साबित होने वाला है.

ऑपरेशन क्लीन के दौरान यूपी में करीब 3 दर्जन कुख्यात अपराधियों को ढेर किया गया है. जबकि 1688 ऐसे अपराधी रहे जिनके सिर इनाम रखा हुआ था और उन्हें मुठभेड़ के बाद गिरफ्तार किया गया है. इस दौरान खास बात ये रही कि जिन बदमाशों को मुठभेड़ में ढेर किया गया उनकी यूपी में तूती बोलती थी. जिनके खात्मे से यूपी के क्राइम सिंडिकेट को बड़ा झटका लगा है. ऊपर दिए गए वीडियो में देखें पूरा शो….

सलाखें: खून जमा देने वाली बर्फ में भी जवान दिखाते हैं पराक्रम

सलाखें: पाकिस्तान से लगती सीमाओं के पास 14,000 बंकर बनाएगा भारत