काहिरा: अपने वजूद की लड़ाई लड़ रहे बगदादी को बड़ा झटका लगा है. बगदादी ने मिस्र में अपनी जड़े जमाने के लिए वहां की एक मस्जिद पर बड़ा आतंकी हमला कराया था लेकिन मिस्र की सरकार ने उस हमले का जो इंतकाम लिया है उसने बगदादी की बखिया उधेड़ दी है. दरअसल ये इंतकाम शुक्रवार को हुए मिस्र की एक बड़ी मस्जिद पर आतंकी हमले का नतीजा है. एक ऐसा आतंकी हमला जिसमें 300 लोग लाश में तब्दील हुए तो सैकड़ों जख्मी हो गए. इसी के बाद मिस्र के राष्ट्रपति ने साफ कर दिया था कि इन मौतों का भयानक इंतकाम लिया जाएगा और आईएसएस पर ये बमबारी वही इंतकाम है.

इराक-सीरिया में बगदादी के आतंक की दुनिया गवाह रही है..लेकिन गुजरते वक्त के साथ इन दोनों मुल्कों से बगदादी के पैर उखड़ चुके हैं. आईएसएस को अब नए ठिकाने की तलाश है. जानकारों का मानना है कि मिस्र में हमले कराने का मकसद यही था, लेकिन बगदादी के खिलाफ मिस्र के एक्शन से साफ है कि इस मुल्क में बगदादी के लिए पैर जमाना अब नामुमकिन है. मिस्र के सिनाई में आतंकियों ने बड़े हमले को अंजाम दिया था. आतंकियों के निशाने पर सूफी मस्जिद थी. मिस्र में आईएसएस आतंकियों ने अबतक जो भी हमले किये हैं. उनमें सूफियों या चर्चों को ही निशाना बनाया गया है. आईएसएस ऐसा खास मकसद और वजह से कर रहा है. आखिर क्यों वीडियो में देखें पूरी शो

सलाखें: नार्को टेस्ट में खुलेंगे राधे मां के कई राज!

सलाखें: किम जोंग इस लड़की से करता है बेइंतहा मोहब्बत!

 

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर