लखनऊ: पिछले आठ महीनों से यूपी पुलिस एक्शन में दिखाई दे रही है जिस कारण यूपी के अपराधियों में हाहाकार मचा हुआ है. अपराधी पुलिस जीप का सायरन सुनकर ही भागने लगते हैं क्योंकि उन्हें अब इस बात का खौफ सता रहा है कि कहीं एनकाउंटर में मारे ना जाएं. सीएम बनने के बाद योगी आदित्यनाथ ने अपराधियों को सुधर जाने की हिदायत दी थी, कुछ तो सुधर गए लेकिन जो नहीं सुधरे उनके लिए यूपी पुलिस काल बन गई है. यूपी में आधी रात के एनकाउंटर का पूरा सच आज हम आपको बताएंगे और आप वीडियो में देख भी सकते हैं.
 
इन दिनों यूपी में एनकाउंटर की तस्वीरें आम हो चली है, जब भी एनकाउंटर होता है उसकी लाइव रिकार्डिंग जरूर होती है. आगे पुलिस होती है उसके पीछे कैमरे होते है और कैमरे में बाकायदा पुलिस पोजीशन लेती है और अपराधियों को चेतावनी देकर धायं धाय गोलियां चलाने लगती है. ये सब देखकर मानो ऐसा लगता है जैसे किसी क्राइम शो की शूटिंग हो रही है. 
 
यूपी पुलिस ने मेरठ जोन में 15 कुख्यात अपराधियों को मार गिराया है, एडीजी का कहना है कि कानून के दायरे में रहकर अपराधियों के खिलाफ कार्रवाई की जा रही है. बता दें कि एक के बाद एक एनकाउंटर से यूपी पुलिस सवालों के घेरे में आ गई है. गौरतलब है कि शनिवार को मुजफ्फरनगर में एनकाउंटर हुआ था जिसमें पुलिस ने 20 हजार रुपए के इनामी बदमाश को गोली मारी. दूसरी और इन अपराधियों के परिजनों का कहना है कि पुलिस झूठ बोल रही है. एक मां का कहना है कि मेरे बेटे का किसी तरह का कोई आपराधिक रिकॉर्ड नहीं है.
 
(वीडियो में देखें पूरा शो)
 
 

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर