नई दिल्ली. जम्मू-कश्मीर के उधमपुर से पकड़े गए आतंकवादी उस्मान उर्फ नावेद ने खुफिया एजेंसियों के सामने कई अहम खुलासे किए हैं. सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक, पूछताछ के दौरान आतंकी नावेद ने कई बार अपना बयान बदला है. इस दौरान उसने अपने मिशन और योजना का पूरा चिट्ठा खुफिया एजेंसियों के सामने खोला है. रिपोर्ट के मुताबिक इस आतंकी हमले और उसकी प्लानिंग को लेकर कुछ अहम तथ्य सामने आए है.

आतंकियों ने कैसे किया बॉडर क्रास?
रिपोर्ट के मुताबिक पकड़े गए आतंकी उस्मान ऊर्फ नावेद ने शुरुआती पूछताछ में पुंछ-राजौरी सीमा से भारतीय क्षेत्र में घुसपैठ करने की बात कही. इसके बाद उसने सुरक्षा अधिकारियों को बताया कि उसने अपने साथियों के साथ कश्मीर घाटी के कुपवाड़ा से नियंत्रण रेखा को पार किया. इसके तुरंत बाद नावेद ने अपना बयान बदलते हुए कहा कि उन लोगों ने बारामूला जिले से भारत में प्रवेश किया.

लश्कर के तीन अन्य साथियों के साथ सीमा पार की 
नावेद ने सबसे पहले सुरक्षा अधिकारियों को बताया कि उसने अपने साथी मोहम्मद नोमान के साथ भारतीय सीमा में प्रवेश किया. नावेद ने सुरक्षा अधिकारियों को बताया कि उसने लश्कर-ए-तैयबा के तीन अन्य हथियारबंद आतंकियों के साथ तन्मार्ग सीमा से झाड़ियां काटकर नियंत्रण रेखा पार की. नावेद ने कहा कि नियंत्रण रेखा पार करने के दौरान उन्होंने इस बात का ध्यान रखा कि वहां से भारतीय चौकियां कुछ ही दूरी पर स्थित हों. नावेद ने पूछताछ में बताया कि उसने ईद से दो महीने पहले भी अपने साथियों के साथ मिलकर घुसपैठ की थी. वहीं, खुफिया एजेंसियों का मानना है कि नावेद और उसके चार संदिग्ध साथी मई के अंतिम सप्ताह या फिर जून के पहले सप्ताह में पाकिस्तान से भारत आए होंगे.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App