नई दिल्ली. खुशी से कोई खुदकुशी नहीं करना चाहता लेकिन नोएडा के एक परिवार ने यही फैसला किया है. वो जिद पर अड़ा है कि अगर उन्हें तीन महीने में इंसाफ नहीं मिला तो पूरा परिवार खुदकुशी कर लेगा. यह वही बदनसीब परिवार है जिसकी बहू-बेटी को हाईवे के दरिंदों ने बेआबरू किया था.
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
नेशनल हाईवे 91 पर ठीक इसी जगह इंसानियत को हिलाकर रख देने वाली वारदात को अंजाम दिया गया, जब एक मां और उसकी 14 साल की नाबालिग बेटी को 7 दरिंदों ने 3 घंटे तक हैवानियत का शिकार बनाया. वो मदद के लिए चीखती रही. दरिंदों से रहम की भीख मांगती रही लेकिन पूरे तीन घंटे तक उन्हें बेआबरू किया गया.
 
Stay Connected with InKhabar | Android App | Facebook | Twitter
 
हालांकि इस मामले में बुलंदशहर पुलिस ने मां-बेटी के साथ गैंगरेप की शर्मनाक वारदात को अंजाम देने वाले 7 में से 3 आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है. पुलिस के मुताबिक इन्हीं लोगों ने अपने बाकी साथियों के साथ मिलकर वारदात को अंजाम दिया था. गिरफ्तारी के बाद पुलिस ने तीनों को अदालत में पेश किया. पुलिस ने आरोपियों की पुलिस रिमांड नहीं मांगी, इसीलिए अदालत ने तीनों आरोपियों को 14 दिन के लिए न्यायिक हिरासत में भेज दिया. वीडियो में देखें पूरा शो

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App