नई दिल्ली: ये मस्तानों की वो टोली है. जिसका लीडर विराट कोहली हैं. कोच रवि शास्त्री का ये बयान इस बात का शंखनाद करता है कि कोहली की ये टीम सर्वक्षेष्ठ हैं. दुनिया की नंबर वन टेस्ट टीम का ताज अपने पास रखने वाली कोहली एंड कंपनी के लिए ये साल क्यों है खास वो समझिए. ये टीम सिर्फ जीतती ही नहीं, बल्कि विरोधी टीम को सालों – साल ना भूलने वाला दर्द भी देती हैं.

टीम इंडिया ने इस साल अब तक कुल 7 टेस्ट जीते हैं इन 7 में से एक 6 टेस्ट 4 या उससे कम दिन में जीते. अब अगर टेस्ट मैच 5 दिन का होता है. अगर आपकी टीम लगातार पांचवें दिन से पहले ही जीत रही हो तो आप कह सकते हैं कि आपकी टीम महान हैं. इस टीम में क्या खास है अब वो समझिए. टीम के कप्तान को शतक नहीं दोहरा शतक बनाने की आदत है. हर ओपनर टीम में जगह बनाने को बेकरार है. मिडिल ऑर्डर में जिसको उतारो वो शतक बनाकर ही दम लेता है. तेज गेंदबाज भी वापसी करते ही विकेट चटकाता है स्पिनर्स आर अश्विन और रवींद्र जडेजा के सामने विरोधियों को कुछ समझ नहीं आता

कप्तान भी हर खिलाड़ी का उत्साह कुछ इस तरह बढ़ाते हैं

विराट की इस टीम को अभी दिल्ली में श्रीलंका को हराना है और उसके बाद दक्षिण अफ्रीका जाना है. टीम जानती है, कप्तान जानता है कि अगले 18 महीने इस टीम के लिए कितने अहम होने वाले हैं. क्योंकि अगले डेढ़ साल में चीकू के सामने बड़ी चुनौती ये होगी कि चार दिन में टेस्ट मैच जीते ना जीते कम से कम चार दिन में हारें ना .क्योंकि विदेशी सरजमीं पर टीम इंडिया का रिकार्ड सभी जानते है . जिसको सुधारने का काम कोहली और उनकी टोली को करना है.

वीडियो में देखे पूरा शो-

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App