नई दिल्ली: भारत और श्रीलंका के बीच नागपुर में खेले जा रेह तीन टेस्ट मैचों की सीरीज के दूसरे मैच में श्रीलंका की पहली पारी 205 रन पर ऑल आउट हो गई है. पहले दिन का खेल खत्म होने तक भारत ने 1 विकेट के नुकसान पर 11 रन बना लिए थे. क्रिकेट विश्लेषकों का माने तो श्रीलंका को अब कोई मौका नहीं मिलेगा जिससे की वो मैच जीत सके, क्योंकि नागपुर में नकली पिच मिली है. आप ये सुनते – सुनते नहीं थके होंगे कि नागपुर की पिच हरी है. उसमें उछाल होगा और तेज गेंदबाज़ नया इतिहास लिखेंगे. लेकिन हुआ उसका उल्टा.

पहले ही दिन पिच टर्न ले रही थी. अश्विन और जडेजा की गेंदे श्रीलंकाई बल्लेबाज़ों को समझ नहीं आ रही थी. जैसे-जैसे खेल आगे बढ़ता जा रहा है स्पिनर्स भी खतरनाक होते जा रहे हैं. वैसे इस विकेट पर बल्लेबाज़ों के लिए भी काफी कुछ हैं और सेट होने के बाद बल्लेबाज़ों के लिए ये विकेट पाटा बन जा रहा है. लेकिन सवाल ये उठता है कि आखिर हर कोई हरी पिच की बात क्यों कर रहा था? क्या किसी दूसरी पिच में मैच खेला जा रहा है? पिच में बदलाव के लिए किसने कहा? सवाल तो उठेंगे ही, क्योंकि विराट कोहली ने पहले ही दक्षिण अफ्रीकी दौरे की तैयारी की बात की थी. लेकिन जब मैच शुरू हुआ तो ज्यादातर समय तेज गेंदबाज़ों का तूफान नहीं बल्कि स्पिनर्स का जादू ही नजर आया.

बता दें मैच में टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने उतरी श्रीलंका की पूरी टीम 79.1 ओवर में 205 रन पर ऑल आउट हो गई. भारतीय गेंदबाजों ने शानदार गेंदबाजी की. खासकर स्पिनर्स ने. आर अश्विन ने 4 विकेट तो रवींद्र जड़ेजा ने 3 विकेट झटक कर विरोधी टीम की कम ही तोड़ दी. बचा खुचा काम ईशांत शर्मा ने कर दिया. ईशांत ने 3 विकेट झटक कर पूरी टीम का सफाया कर दिया. इसके बाद बल्लेबाजी करने आई भारतीय टीम की शुरुआत भी कोई खास नहीं रही. 7 रन के स्कोर पर भारत को पहला झटका लगा. लोकेश राहुल 7 रन के स्कोर पर चलता बने. फिलहा मुरली विजय और चेतेश्वर पुजारा डटे हुए हैं.

वीडियो में देखें पूरा शो-

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App